कुश्ती महासंघ का चुनाव 5 जुलाई से टलकर हुआ 11 जुलाई, वोटिंग लिस्ट में बृजभूषण के परिवार का नाम होने पर आपत्ति

भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) की चुनाव प्रक्रिया यानी इलेक्टोरल कॉलेज के गठन से लेकर सभी पदों के लिए नामांकन दाखिल करने और मतदान को 5 जुलाई को न कर के अब 11 जुलाई तक के लिए टाल दिया गया है। यह फैसला भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) की तदर्थ समिति (एड-हॉक कमेटी) ने पांच अमान्य प्रदेश इकाइयों की दलीलें सुनने के बाद किया है। सूत्रों के अनुसार कुछ सदस्यों ने पूर्व डब्ल्यूएफआई प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के परिवार के सदस्यों को चुनाव में मतदान करने की अनुमति दिए जाने की संभावना पर भी आपत्ति जताई है। और उन्होंने आरोप लगाया है कि उनकी राज्य संघ में अवैध तरीके से नियुक्ति हुर्इ हैं। एड-हॉक कमेटी में सेवानिवृत्त उच्च न्यायालय के न्यायाधीश एमएम कुमार शामिल हैं उनसे महाराष्ट्र, हरियाणा, तेलंगाना, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश पांच प्रदेश इकाइयों ने संपर्क किया था।