क्रिकेट Archives | Tehelka Hindi — Tehelka Hindi

Post Tagged with: "क्रिकेट"

पंजाब की राजनीति का ‘गुरु’ फैक्टर

दुनिया भर के गेंदबाजों की नाक में दम करने वाले क्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिंह सिद्धू राजनीति की पिच पर अपने खेल से सबको चौंका रहे हैं. अपनी कंमेंट्री, अपने हंसने के अंदाज और चुटीले संवाद के लिए मशहूर पूर्व सलामी बल्लेबाज सिद्धू का गेम प्लान विश्लेषकों की समझ  

इस क्रिकेट के साथ खेल क्यों ?

वर्ष 2012 में भारत और पाकिस्तान के बीच बंगलुरु में पहले ब्लाइंड टी-20 विश्वकप का फाइनल खेला जा रहा था. पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के तीन बल्लेबाज 42 रन तक पैवेलियन लौट चुके थे. यहां से केतनभाई पटेल ने भारतीय पारी को संभाला और 43 गेंदों पर 98 रन  

लोढ़ा समिति की सिफारिशें लागू होतीं तो अनुराग ठाकुर कभी बीसीसीआई के अध्यक्ष नहीं बन पाते : आदित्य वर्मा

आदित्य वर्मा के बारे में शायद कम ही लोग जानते हों लेकिन यही वे शख्स हैं जो पिछले लगभग दो साल से भारतीय क्रिकेट में मची हलचल का कारण रहे. सुप्रीम कोर्ट में लगाई इनकी ही याचिका के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से एन. श्रीनिवासन की छुट्टी हुई  

क्या होगा अगर क्रिकेट में सट्टेबाजी पर लग जाए मुहर?

हर धर्म में कुरीतियां होती हैं. भारत का एक धर्म क्रिकेट भी है. इस धर्म में भी एक कुरीति है- सट्टेबाजी. भारत क्रिकेट में सट्टेबाजी का विश्व का सबसे बड़ा बाजार है. सट्टेबाजी के इस शास्त्र ने भारतीय क्रिकेट को कई ऐसे जख्म दिए हैं जो कभी भरे नहीं जा  

प्रेम-पैसा-प्रसारण

‘ओवर की आखिरी गेंद… सचिन ने फाइन लेग की तरफ खेल दिया है … और इस एक रन के साथ ही सचिन का शतक पूरा..’ कमेंटटेर की आवाज के बीच अचानक से टीवी पर क्रिकेट प्रसारण रुक जाता है. फेयरनेस क्रीम का विज्ञापन आने लगता है. दो मिनट बाद प्रसारण  

लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों पर सुप्रीम कोर्ट की मुहर, बदल जाएगा क्रिकेट का चेहरा

‘जस्टिस लोढ़ा समिति की सिफारिशें देश में केवल क्रिकेट ही नहीं, अन्य खेलों के लिए भी नजीर पेश करने वाली हैं. जितनी गहराई में वे गए हैं, उतनी गहराई से भारतीय क्रिकेट का पोस्टमार्टम कभी नहीं हुआ’ ये शब्द पूर्व भारतीय क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी के हैं, जो क्रिकेट में  

पिच फिक्सिंग

मुंबई का वानखेड़े स्टेडियम भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली गई पांच एकदिवसीय मैचों की सीरीज के अंतिम और निर्णायक मुकाबले के लिए तैयार था. इससे पहले खेले चार मुकाबलों में दो-दो जीत के साथ दोनों टीमें बराबरी पर थीं. इसलिए निर्णायक मुकाबले में कांटे की टक्कर होने की  

बीसीसीआई : खेल में फेल

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) धीरे-धीरे क्रिकेट के बजाय गड़बड़ियों और अव्यवस्थाओं का बोर्ड बनता जा रहा है. कारण स्वाभाविक हैं. क्रिकेट के मामलों में अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत करने का कोई भी मौका मुश्किल से ही छोड़ने वाला बीसीसीआई अपनी संस्थागत परेशानियों से जूझ रहा है. बोर्ड की  

आईपीएल में सबसे कम उम्र का खिलाड़ी बना सरफराज

दुनिया के महान बल्लेबाजों में से एक मास्टर ब्‍लास्टर सचिन तेंडुलकर के ज‌न्मदिन के ठीक पहले क्रिकेट जगत में एक नए खिलाड़ी का पदार्पण नई उम्मीद जगाता है. यह उम्मीद सरफराज खान के रूप में उभरी है. मुंबई के इस किशोर क्रिकेटर ने सबसे कम उम्र में आईपीएल खेलने का  

अबकी बार किसकी ललकार?

आरोप लगाए जाते हैं कि आईपीएल ने क्रिकेट को एकतरफा बना दिया है. ऐसे में चालू सीजन में मजबूत दिखनेवाली आठों टीमों पर आईपीएल को अधिक रोमांचक और प्रतिस्पर्द्धात्मक बनाने की जिम्मेदारी होगी