‘हमने अपने पूर्व कर्मचारियों को बहुत निराश किया है, इसके लिए हम बेहद शर्मिंदा हैं और माफी मांगते हैं’

अब जब इस मुद्दे से जुड़े हर व्यक्ति ने इस्तीफा दे दिया है, तो इसके प्रति जवाबदेह कौन होगा?

हम अपने किए हर वादे के लिए जवाबदेह हैं. ग्रीनपीस ही इसके लिए जिम्मेदार और जवाबदेह होगा.

क्या यौन उत्पीड़न की शिकार से सिर्फ माफी मांग लेना काफी है?

नहीं, पीड़िता माफी से कहीं ज्यादा की हकदार है. पीड़िता को समझना होगा कि दोषियों को सामने लाया जा चुका है. हमने पिछले कुछ दिनों में कुछ बेहद कठिन निर्णय लिए हैं जो हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं. जो हो गया उसे तो बदला नहीं जा सकता पर हम कोशिश करेंगे कि फिर ग्रीनपीस में ऐसा कभी न हो.

क्या उन आरोपियों के रिलीविंग लेटर पर उनके संस्थान छोड़ने का कारण स्पष्ट लिखा गया है?

जैसा मैंने पहले भी कई बार कहा कि बलात्कार के मामले की कोई जांच नहीं की गई थी. उत्पीड़न के मामले के दोषी को शिकायत के आधार पर ही संस्थान छोड़ने के लिए कहा गया था और ये बात उनके रिकॉर्ड में दर्ज होगी.

ग्रीनपीस ने माना है कि संस्थान के वर्क कल्चर और माहौल में खामियां हैं, अब सुधार की दिशा में क्या कदम उठाए जा रहे हैं?

नए बदलावों के लिए संस्थान में भरपूर ऊर्जा है. हम खुद से नाराज और निराश हैं और माहौल बदलना चाहते हैं. ये एक नई शुरुआत के लिए सही समय होगा. एक बार ऑडिट की रिपोर्ट आ जाने के बाद हमारे लिए व्यवस्थाएं सही करना आसान होगा.

इस केस में बातचीत के दौरान हमें ऐसे कई और मामलों का पता चला जिसमें अलग-अलग दफ्तरों में यौन उत्पीड़न की शिकायतें दर्ज कराई गईं पर ग्रीनपीस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई. इन मामलों के बारे में आपका क्या कहना है? क्या मैनेजमेंट ने कभी ऐसी शिकायतों को गंभीरता से नहीं लिया?

हम इन मामलों का ब्योरा गोपनीयता के चलते बता नहीं सकते. ग्रीनपीस अब बदलाव लाने के लिए प्रतिबद्ध है और कार्यस्थल पर सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here