शोएब अहमद खान, Author at Tehelka Hindi — Tehelka Hindi
शोएब अहमद खान
शोएब अहमद खान 
Articles By शोएब अहमद खान 
ये कैसी दुनिया है जहां भीख मांगने वालों की जेब पर भी डाका पड़ता है…

ये पिछले साल गर्मियों की बात है. रात के अंधेरे में वीराने को चीरती शिवगंगा एक्सप्रेस पूरी रफ्तार में दौड़ती चली जा रही थी. दिल्ली से इलाहाबाद का मेरा सफर थोड़ा मुश्किल था क्योंकि रिजर्वेशन कन्फर्म नहीं हुआ था. खचाखच भरी बोगी में कहीं भी बैठने की जगह नहीं थी.