पहली बैठक के लिए प्रियंका कांग्रेस दफ्तर पहुँची

पार्टी की बैठक में चुनावों पर होनी है नेताओं की चर्चा

0
441

प्रियंका गांधी कांग्रेस मुख्यालय पहुँच गयी हैं। महासचिव बनने के बाद प्रियंका गांधी गुरूवार को कांग्रेस की बैठक में पहली बार आधिकारिक रूप से हिस्सा लेंगी। इस बैठक की अध्यक्षता राहुल गांधी करेंगे और इसमें चुनावों को लेकर पार्टी के महासचिवों और वरिष्ठ नेताओं में चर्चा होगी।

प्रियंका के राजनीति में आने के बाद देश भर में जबरदस्त चर्चा है। यह दिलचस्प ही है कि जहाँ प्रियंका अगले चुनाव के लिए रणनीतिक बैठकों में व्यस्त होने लगी हैं, उनके पति राबर्ट वाड्रा को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) लगातार अपने दफ्तर बुलाकर उनसे पूछताछ कर रहा है। उनपर धनशोधन का आरोप है और ईडी का दावा है कि लन्दन में भी राबर्ट की सम्पति है जिसे लेकर यह पूछताछ वो कर रहा है।

कांग्रेस मुख्यालय में प्रियंका गांधी उस गेट से भीतर आईं जहाँ से सभी अन्य नेता और कार्यकर्ता आते हैं। जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अध्यक्ष के लिए बने विशेष गेट से भीतर आये। कांग्रेस कार्यालय का प्रोटोकॉल है कि गेट से सिर्फ अध्यक्ष ही भीतर आ सकते हैं।

जानकार एक ही समय में राबर्ट से ईडी की पूछताछ और प्रियंका के सक्रिय राजनीति में आने को संयोग न मानकर राजनीति मान रहे हैं। कांग्रेस आरोप लगा रही है कि राबर्ट से ईडी की पूछताछ महज ”मोदी सरकार की बदले की भावना की कार्रवाई” है। पार्टी नेताओं ने लगातार राबर्ट का बचाव किया है और खुद राबर्ट जोर देकर कह चुके हैं कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है।

आज की बैठक में पार्टी के आने वाले चुनाव को लेकर अहम चर्चा होने की सम्भावना है। प्रियंका को राहुल ने महासचिव बनाकर यूपी के पूर्वांचल का जिम्मा सौंपा है जिसे बहुत अहम् माना जा रहा है क्योंकि कांग्रेस का किसी समय यह इलाका गढ़  रहा है।

बैठक में ग़ुलाम नबी आज़ाद, मल्लिकार्जुन खड़गे, अम्बिका सोनी, मोटी लाल बोरा, केएल पुनिया, ज्योतिरादित्य सिंधिया आदि नेता शामिल हैं।