देश में ‘अंधेर नगरी चौपट राजा’ : सोनिया गांधी

कांग्रेस की भाजपा सरकार की 'विभाजनकारी' नीतियों के खिलाफ भारत बचाओ रैली

0
786

कांग्रेस ने शनिवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में ”भारत बचाओ” रैली का आयोजन  कर भाजपा और मोदी सरकार के खिलाफ हमला बोला। अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और अन्य नेता शामिल हुए। इस मौके पर एक बड़े जनसमूह को संबोधित करते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि  नागरिकतासंशोधन कानून भारत की आत्मा को तार-तार कर देगा। ये देश की आत्मा पर चोट है। असम और पूर्वोत्तर राज्यों में इसके खिलाफ बड़ा विरोध प्रदर्शन हो रहा है।

सोनिया गांधी ने कहा –  ”मैं देश की जनता से कहना चाहती हूं कि हम लोकतंत्र बचाने के लिए कोई भी कुर्बानी देने को तैयार हैं। हम आखिरी सांस तक देश की रक्षा करेंगे। आज देश में अंधेर नगरी चौपट राजा जैसा माहौल है। सबका साथ सबका विकास नहीं हो रहा। अर्थव्यवस्था तबाह हो गई है। कालाधन ख़त्म करने की बातें थोथी साबित हुई हैं। इसके लिए कानून बनाया लेकिन कालाधन कहां है। इस बात की जांच होनी चाहिए या नहीं।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कंपनियों को बेचे जाने के खिलाफ जांच होनी चाहिए या  नहीं।आज हमारा पैसा बैंकों में भी सुरक्षित नहीं है, घरों में सुरक्षित नहीं है। जगह-जगह से छोटे कारोबारियों के आत्महत्या करने की खबरें मिल रही हैं। मजदूर भाइयों को दो वक्त की रोटी नहीं मिल रही है। छोटे-बड़े कारोबारी, जिन्होंने बैंकों से लोन लिया है, वे परेशान हैं। आप बताइए कि हम लोग अपने लिए संघर्ष करने के लिए तैयार हैं कि नहीं। मेरी बहनें अपना पेट काटकर परिवार पालती हैं। आज महंगाई से वो त्रस्त हैं।”

गांधी ने कहा कि अब समय आ गया है कि हम लोग अपने-अपने घरों से निकले और आंदोलन करें। ”आज जब मैं अपने अन्नदाता किसान भाइयों की ओर देखती हूं तो मुझे बहुत दुख होता है। उन्हें खाद नहीं मिलती। पानी-बिजली की सुविधाएं नहीं मिलतीं। फसल के उचित दाम नहीं मिलते। ऐसे में सरकार को बताइए कि हम उनके खिलाफ संघर्ष को तैयार हैं कि नहीं।”

उनसे पहले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने रैली में कहा कि आज से तकरीबन छह  साल पहले मोदीजी ने देश की जनता को सब्जबाग दिखलाए थे। ”उन्होंने देश की जनता से वादा किया था कि वो देश को खुशहाल बना देंगे। किसानों से वादा किया था कि उनकी आमदनी दोगुनी कर दी जाएगी। युवाओं से वादा किया था कि हर साल दो करोड़ रोजगार देंगे लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।”

मनमोहन सिंह ने कहा – ”आज साबित हो गया है कि जो वादे मोदी जी ने देश की जनता के साथ किए थे, वो उन्हें पूरा करने में नाकाम रहे।”

रैली को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी संबोधित किया। राहुल ने कहा – ”मैं करोड़ों लोगों से आज इस माध्यम से बात कर रहा हूं, आप लोग देश को बांटते नहीं हो। आप लोग खून-पसीने से देश को खड़ा करते हो। आज देश को बांटा जा रहा है। सत्ता के लिए हमारे प्रधानमंत्री कुछ भी करेंगे। टीवी पर नरेंद्र मोदी रोज दिखाई देते हैं। टीवी पर तीस सेकेंड के एड के लिए कितने पैसे देने पड़ते हैं, आप जानते हो। मोदीजी को दिखाने का पैसा कौन दे रहा है।”
किसानों का मुद्दा उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा – ”किसान आत्महत्या कर रहे हैं। आपने देश को मजबूत करने के लिए नरेंद्र मोदी को चुना लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मैंने संसद में पूछा कितने किसानों ने आत्महत्या की लेकिन उनके नेता जवाब देते हैं कि हमें नहीं मालूम। ये लोग देश को बांटने का काम करते हैं। देश को तोड़ने का काम करते हैं।”

कांग्रेस नेता ने कहा कि ये लोग आपकी कॉल का रेट बढ़ा देंगे और कारोबारियों का कर्ज माफ कर देंगे। ”जब तक देश की जनता के पास पैसे नहीं होंगे, तब तक देश की अर्थव्यवस्था आगे नहीं जा सकती। नरेंद्र मोदी ने आपकी जेब से पैसा निकाल लिया। इस देश का सबसे ज्यादा नुकसान प्रधानमंत्री ने किया है। पिछले पांच साल में नरेंद्र मोदी ने अडानी को ५० कॉन्ट्रैक्ट दिए हैं। देश के एयरपोर्ट पकड़ा दिए। ये कॉन्ट्रैक्ट क्यों दिए। एक लाख ४० हजार करोड़ रुपए के १५-२० अमीर लोगों के कर्ज माफ कर दिए।”

राहुल गांधी ने कहा – ”कल मुझसे बीजेपी के लोग माफी मांगने के लिए कह रहे थे।  भाइयों-बहनों लेकिन मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं है, मेरा नाम राहुल गांधी है। मर जाऊंगा लेकिन माफी नहीं मागूंगा। माफी नरेंद्र मोदी को मांगनी है, माफी अमित शाह को मांगनी है।”

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रैली में कहा –  ”आरएसएस का प्रचारक मोदी आज देश पर राज कर रहा है। इनकी नीतियां देश के पक्ष में हरगिज नहीं हैं।  आज देश बदहाली की ओर आगे बढ़ रहा है। दुनिया के दूसरे देश भी भारत को संदिग्ध निगाहों से देख रहे हैं। इस सरकार ने अर्थव्यवस्था का कबाड़ा कर दिया है।”

रैली में प्रियंका गांधी ने कहा -”भारत कैसा देश है? यह एक ऐसे आंदोलन से पैदा हुआ देश है, जिसने विश्व के सबसे बड़े साम्राज्य को हराने के लिए अहिंसा और प्रेम की शक्ति का इस्तेमाल किया। यह प्रेम, अहिंसा और भाईचारे का देश है।”

प्रियंका गांधी ने कहा – ”आज देश की जीडीपी पाताल में चली गई है। वैसे सही कहें तो हर बस स्टॉप, हर अखबार पे दिखता है कि मोदी है तो मुमकिन है। असलियत ये है कि बीजेपी है तो १०० रुपए किलो की प्याज है, बीजेपी है तो ४५ साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी मुमकिन है, बीजेपी है तो चार करोड़ नौकरियां नष्ट होना मुमकिन है।”
गांधी ने कहा – ”इस सरकार में महंगाई-बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। बीजेपी है तो महंगाई भी मुमकिन है। बीजेपी है तो १५ हजार किसानों की आत्महत्या मुमकिन है आज प्याज के दाम आसमान छू रहे हैं। डीजल-पेट्रोल की कीमतें बढ़ती जा रही हैं और ये सब इस सरकार की विफलता का सबूत है।”

प्रियंका ने कहा – ”नागरिकता संशोधन कानून विभाजन की वजह बनेगा। आवाज नहीं उठाई तो विभाजन होगा। देश प्यारा है तो आवाज उठाएं। देश में बदहाली पसर चुकी है। अर्थव्यवस्था को इस सरकार ने नष्ट कर दिया है। बेरोजगारों की संख्या बढ़ती जा रही है। उद्योग खत्म हो रहे हैं। नोटबंदी ने जनता की कमर तोड़ दी है। इस सरकार में अपराधियों का बोलबाला है।”

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा – ”मोदी सरकार ने महज छह महीने में अर्थव्यवस्था को तहस-नहस कर दिया। इस सरकार के मंत्रियों को कुछ पता नहीं है। कल वित्त मंत्री ने कहा कि सब कुछ ठीक है, हम दुनिया में सबसे ऊपर हैं। सिर्फ एक बात उन्होंने नहीं कही और वो ये है कि अच्छे दिन आने वाले हैं।”