जहरीली शराब से यूपी, उत्तराखंड में ७१ की मौत

दर्जनों लोग अभी अस्पतालों में लड़ रहे ज़िंदगी की जंग

0
1386

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में शराब दर्जनों परिवारों के लिए कहर बनकर टूटी है। अब तक दोनों राज्यों में इससे ७१ लोगों की मौत हो चुकी है और दर्जनों अस्पतालों में पड़े ज़िंदगी की जंग लड़ रहे हैं। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में अबसे ज्यादा लोगों की जान गयी है।

शनिवार को यह बात सामने आई है कि शराब में चूहे मारने वाली दबाई मिलाई हुई हो सकती है ताकि उसका नशा तेज हो सके। रिपोर्ट्स के मुताबिक जहरीली शराब से उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में कुल ७१ लोगों की जान अब तक जा चुकी है। उत्तराखंड के रुड़की में शराब से १३  लोगों की मौत हुई  है जबकि यूपी के कुशीनगर में ११ और सहारनपुर में ४६  लोगों की मौत हुई है।

उत्तर प्रदेश में मृतकों के परिजनों के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने २-२ लाख रुपए आर्थिक मदद का ऐलान किया है। उधर कुशीनगर में दारोगा समेत पांच पुलिस वालों को सस्पेंड कर दिया गया है जबकि लापरवाही के आरोप में रुड़की में आबकारी विभाग के १३ लोग निलंबित किए गए हैं।  शुरुआती जांच के बाद आधिकारियों ने बताया कि शराब का नशा  तेज करने के लिए उसमें चूहे मारने की दवा मिलाए जाने का शक है।

जिस शराब से लोगों की जान गयी है उसे जांच के लिए लखनऊ की लैब में भेज दिया गया है। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में शनिवार को अधिकारियों ने ६०० पेटी शराब जब्त की है। साथ ही शराब के तस्करों को गिरफ्तार किया और शराब के ट्रक जब्त किए गए।

उधर रुड़की के झबरेड़ा इलाके में १३ लोगों की जहरीली शराब से मौत हुई है।  मरने वाले लोग एक ही इलाके के हैं। इन लोगों ने गुरुवार की शाम शराब पी थी जिसके बाद उनकी तबियत खराब होनी शुरू हो गयी। लोगों को  फिर अस्पताल में भर्ती कराया गया।