किन्नौर में बर्फ में दबे २ सैनिकों के शव मिले

0
585
हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में फरवरी में हिमस्खलन में दब गए सेना के छह जवानों में से बाकी दो और के शव मिले हैं। तीन सैनिकों के शव इसी महीने २ मार्च को भी मिले थे।
जानकारी के मुताबिक  किनौर जिले के नामज्ञा डोगरी के नजदीक हिमस्खलन में दबे दो और जवानों के शव करीब २३ दिन बाद गुरूवार सुबह खोज दल को मिले। खोज अभियान के दौरान गुरुवार सुबह नायक विदेश चंद (३२) पुत्र ईश्वर दास निवासी थरावा (खरगा), तहसील निरमंड (कुल्लू, हिमाचल) और अर्जुन (२५) पुत्र काकू राम निवासी गांव कटल ब्रामणा (झड़ी), तहसील हीरानगर जिला कठुआ (जम्मू कश्मीर) के शव मिले हैं।
गौरतलब है कि २० फरवरी को हिमस्खलन होने से गश्त पर रहे जम्मू-कश्मीर राइफल्स के १६ सैनिकों में से छह बर्फ में दब गए थे। उनके अलावा भारत-तिब्बत सीमा बल  के पांच जवान भी घायल हो गए थे। हादसे में दबे हवलदार राकेश कुमार  को बाहर तो निकाल लिया गया था पर बाद में उनकी मौत हो गयी थी।
इसके बाद लगातार सर्च ऑपरेशन जारी रखा गया जिसके नतीजे में २ मार्च को राजेश ऋषि, निवासी जोंघो जगतपुर नालागढ़, सोलन (हिमाचल) का शव मिला था।
इसके बाद नितिन राणा और बंगाल के गोविंद छेत्री के शव भी मिल गए थे।