उल्टी गिनती शुरू, कुछ देर में चंद्रयान-२ की उड़ान

0
670

भारत के दूसरे महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-२ की तकनीकी गड़बड़ी दूर कर लेने  के बाद अब इसके प्रक्षेपण के लिए उल्टी गिनती शुरू हो गयी है। अब से करीब पोने दो घंटे बाद सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र में दूसरे लांच पैड से प्रक्षेपित किया जाएगा।
इसरो अध्यक्ष के सिवन ने कहा – ”सभी तैयारियां हो गई हैं। गड़बड़ी को ठीक कर लिया गया है। प्रक्षेपण यान अच्छी स्थिति में है। प्रक्षेपण पूर्व अभ्यास सफलतापूर्वक ढंग से पूरा किया गया।” चंद्रयान-२ को आज (सोमवार) २.४३ बजे शक्तिशाली रॉकेट जीएसएलवी-मार्क III-एम1 के जरिए प्रक्षेपित किया जायेगा।
सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र में दूसरे लांच पैड से चंद्रयान-२ के प्रक्षेपण की तैयारी पूरी है। मिशन की लागत करीब ९७८ करोड़ रुपये है। गौरतलब है कि १५ जुलाई को तकनीकी गड़बड़ी के कारण इसका प्रक्षेपण रोक दिया गया था। तीन दिन पहले इसे प्रक्षेपित किये जाने की नई तारीख का ऐलान किया गया था। इसरो ने घोषणा की कि रविवार की शाम ६.४३ बजे प्रक्षेपण के लिए २० घंटे की उल्टी गिनती शुरू हो गई थी।
इसरो ने कहा है कि चंद्रयान-२ चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र में उतरेगा। वहां वह इसके अनछुए पहलुओं को जानने का प्रयास करेगा। यादरहे ११ साल पहले इसरो ने अपने पहले सफल चंद्र मिशन चंद्रयान-१ का प्रक्षेपण किया था जिसने चंद्रमा के ३,४०० से ज्यादा चक्कर लगाए और यह ३१२ दिन (२९ अगस्त, २००९ तक) काम करता रहा। अब चंद्रयान २ देशवासियों के सपनों को ऊंची उड़ान देने के लिए तैयार है।