Volume 7 Issue 13 Archives | Tehelka Hindi — Tehelka Hindi

Post Tagged with: "Volume 7 Issue 13"

हम बिहार में चुनाव लड़ रहे हैं

पाठकों, मैं वह हरिशंकर नहीं हूं, जो व्यंग्य वगैरह लिखा करता था. मेरे नाम, काम, धाम सब बदल गए हैं. मैं राजनीति में शिफ्ट हो गया हूं. बिहार में घूम रहा हूं और मध्यावधि चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा हूं. अब मेरा नाम है- बाबू हरिशंकर नारायण प्रसाद सिंह याद  

‘फैसले की तारीख करीब थी और सब एक-दूसरे के प्रति आशंकित होने लगे थे’

बात उन दिनों की है जब मै रांची विश्वविद्यालय से पत्रकारिता की पढ़ाई कर था, दोस्तों के साथ विभाग के बाहर सामने बरगद पेड़ के पास बने चबूतरे पर रोज ‘छात्र संसद’ लगती थी. यहां हम मित्रों के बीच अंतरंग बातों के अलावा देश की राजनीतिक, आर्थिक और सामाजिक हालात  

मजबूत भी मजबूर भी

लालू से मिलन :  मजबूरी में मजबूती का वास्ता! मांझी प्रकरण की तपिश अब कम होती जा रही है. हालांकि चुनाव तक मांझी इसे बनाए रखना चाहेंगे और भाजपा इसमें हवा-पानी-घी आदि देकर उसे ज्वलंत भी बनाए रखना चाहेगी. अब नीतीश की राजनीतिक यात्रा में उनका और उनकी पार्टी का  

मजबूत भी मजबूर भी

व्यक्तिवाद-परिवारवाद नीतीश कुमार के बारे में एक बात कही जाती है कि वे औरों से बहुत अलग हैं. ऐसा है भी. लालू प्रसाद, रामविलास पासवान या उनके पहले के भी बहुतेरे नेताओं की तुलना में नीतीश एक मामले में अलग छवि रखते हैं. इनके सत्ता में आने के बाद भी  

मजबूत भी मजबूर भी

प्रधानमंत्री पद के लिए कभी खुद को प्रबल दावेदार के तौर पर देखने वाले नीतीश कुमार आज मुुख्यमंत्री पद बचाने की पुरजोर कोशिश में लगे हैं. बिहार में कुछ महीने बाद विधानसभा चुनाव होना है और राज्य के मुखिया नीतीश कुमार अपने सियासी करियर की सबसे मुश्किल लड़ाई लड़ रहे हैं  

अकेले नहीं आते बाढ़ और अकाल

इन दिनों मेघालय, असम से लेकर महाराष्ट्र और गुजरात में आई बाढ़ और उससे हुई जानमाल की भारी क्षति ने विकास के नए मॉडल पर एक बार फिर से सवाल खड़ा किया है. वहीं दूसरी ओर इस साल कम बारिश होने की आशंका भी जताई गई है. कहीं बाढ़ कहीं सुखाड़, हर दिन के किस्से हो गए हैं. समाज कैसे इन चुनौतियों से निपट सकता है, इसका समाधान इस लेख में मिल सकता है. ‘गांधी मार्ग’ से साभार  

अकेले नहीं आते बाढ़ और अकाल

देश का पहला इंजीनियरिंग कॉलेज खुला था हरिद्वार के पास रुड़की नामक एक छोटे से गांव में. और सन था 1847. तब ईस्ट इंडिया कंपनी का राज था. ब्रितानी सरकार भी नहीं आई थी. कंपनी का घोषित लक्ष्य देश में व्यापार था. प्रशासन या लोक कल्याण नहीं. व्यापार भी शिष्ट  

ललित मोदी विवाद

ललित मोदी पर क्या हैं आरोप? आईपीएल के पूर्व अध्यक्ष ललित मोदी पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने वित्तीय अनियमितताओं (फेमा) के आरोप लगाए हैं. उनपर आईपीएल में घोटाले और मैच फिक्सिंग के भी आरोप हैं. आईपीएल 2010 फाइनल के बाद ललित मोदी को आईपीएल के अध्यक्ष पद से हटाए जाने  

दिवालिया होने की दहलीज पर ग्रीस

ग्रीस बीते कुछ सालों से आर्थिक संकट से जूझ रहा है. लगातार संकट गहराने की वजह से कभी दुनिया जीतने का सपना देखने वाला यह देश दिवालिया होने की कगार पर आ खड़ा हुआ है. ग्रीस पर अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का 11 लाख करोड़ रुपये का कर्ज चढ़ चुका  

ग्रीनपीस के एक वालंटियर का इंटरनेशनल हेड कुमी को भेजा गया ई-मेल

अपने सहयोगियों के साथ हुए अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने के लिए ग्रीनपीस के कुछ कर्मचारी लगातार इंटरनेशनल ऑफिस से संपर्क कर रहे थे. 26 मई 2015 को ये ई-मेल एक वालंटियर ने इंटरनेशनल हेड कुमी नायडू को भेजा था...