arvind kejriwal Archives | Tehelka Hindi — Tehelka Hindi

Post Tagged with: "arvind kejriwal"

केजरीवाल का माफी मांग कर जताना पश्चाताप!

पंजाब में अरविंद केजरीवाल की इज्जत का खत्म होना और उनकी आलोचना सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे द्वारा होना संकेत है शिरोमणि अकाली दल की मजबूत वापसी। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने अभी पिछले ही दिनों पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रमजीत सिंह मजीठिया  

दिल्ली सरकार और नौकरशाह में भिड़ंत

आम आदमी पार्टी -आप पार्टी- के गठन के दौरान से ही पार्टी अपनी शर्तो पर चलने की इस कदर हावी हो गई है, कि कोई भी अगर पार्टी के खिलाफ आवाज उठायें या फिर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल कि विरोध में कुछ भी बोले तो आप पार्टी अपने तरीके से उसके  

जंग से तंग

दिल्ली में उप राज्यपाल नजीब जंग और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच नाक की लड़ाई जारी है. दोनों एक-दूसरे के फैसले को कानूनी दांवपेंच में उलझाकर पलट दे रहे हैं. इससे राज्य का कामकाज प्रभावित हो रहा है  

घटनाक्रम : उप राज्यपाल और मुख्यमंत्री के बीच की रस्साकशी

16/05/15:  दिल्ली के मुख्य सचिव केके शर्मा छुट्टी पर गए. उप राज्यपाल ने शकुंतला गैमलिन को कार्यवाहक मुख्य सचिव बनाया. केजरीवाल ने इसे नकारते हुए गैमलिन को चार्ज नहीं लेने को कहा. केजरीवाल परिमल राय को कार्यवाहक मुख्य सचिव बनाना चाहते थे. लेकिन वरिष्ठ आईएएस अधिकारी शकुंतला गैमलिन ने सुबह  

तस्वीरें: दिल्ली में मतदान का दिन

दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों के लिए आज हुए चुनाव में शाम 6 बजे तक 67 प्रतिशत मतदान हुआ. पिछले विधानसभा चुनाव में 65.40 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था. आज हुए चुनाव के नतीजे 10 फरवरी को आएंगे.  

मोदी की रैली में 10 बसें ले जानेवाले ‘आप’ उम्मीदवार का पत्ता साफ

नामांकन दाखिल करने के आखिरी दिन ‘आप’ ने अपने दो उम्मीदवारों का टिकट काट दिया. पार्टी ने ‘आंतरिक लोकपाल’ की जांच के बाद महरौली और मुंडका से अपने उम्मीदवारों को बदल दिया है. अब महरौली से नरेश यादव और मुंड़का से सुखबीर दलाल आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी होंगे. पार्टी के मुताबिक, महरौली के  

गति की अति!

अपने कार्यकाल के पहले ही महीने में आप सरकार ने जो किया है उसे अभूतपूर्व कहा जा सकता है. लेकिन इस दौरान वह जिस तरह नित नए विवाद में घिरी रही वह भी कम असाधारण नहीं. अब जिस तरह पार्टी चादर से ज्यादा पांव फैलाने की कोशिश कर रही है, वह उसके भविष्य के लिए किस तरह के संकेत देता है?  

मीडिया और ‘आप’

आत्ममंथन की जरूरत अरविंद केजरीवाल को भी है और मीडिया को भी.  

गांधी और आंधी के बीच

गांधी का रास्ता निष्ठा और ईमानदारी के इतर भी कई चीजों की मांग करता है.