Issue wise archive | Tehelka Hindi

Other Articles

‘दुनिया में कौन सा देश है जो अभिव्यक्ति के नाम पर अपने खिलाफ कोई बात बर्दाश्त करेगा ?’

देश भर के कई विश्वविद्यालयों में जो टकराव चल रहे हैं, उसमें एबीवीपी एक पक्ष के तौर पर उभरी है. हैदराबाद, जेएनयू, बीएचयू, लखनऊ, इलाहाबाद सब जगह एबीवीपी की शिकायत पर कार्रवाई की गई. सेमिनार और व्याख्यान बाधित करने और प्रोफेसराें-छात्रों पर हमले करने में भी एबीवीपी का नाम आया.  

बहुत नाजुक है ये राष्ट्रवाद

राष्ट्रवाद पर मेरे जो विचार हैं, उस बारे में सबसे पहले हम भाषा से बात शुरू करते हैं. कुछ दिन पहले एक कार्यक्रम में सवाल किया गया था कि क्या एक राष्ट्र बनने के लिए एक भाषा की जरूरत नहीं है. उस सवाल का जवाब आयशा क‌िदवई ने उस वक्त दिया  

आईआरसीटीसी में शोषण का सिलसिला

कौन आईआरसीटीसी के कर्मचारी कब 01 फरवरी, 2016 कहां आईआरसीटीसी कार्यालय, नई दिल्ली ‘सावधान… 10 से 12 बजे के बीच शौच जाना मना है. अगर आप ऐसा करते पाई गईं तो नौकरी से हाथ भी धोना पड़ सकता है’ आपने शायद ही कभी ऐसा अजीबोगरीब नियम देखा या सुना होगा.  

आरक्षण की आग

18 फरवरी, 2016; तूफान से पहले की शांति थी उस दिन हरियाणा में. तूफान, जो पूरे राज्य को अपनी चपेट में लेने वाला था. जिसका केंद्र रोहतक था. यातायात पूरी तरह ठप था, शहर के अंदर-बाहर कुछ-कुछ दूरी पर रास्ते बंद थे. लंबे-लंबे जाम लगे हुए थे. बाजार तो खुले  

वाहियात चीजों से अच्छा है, कुछ ऐसा करूं जो एक कलाकार के तौर पर मुझे खुशी दे: मानव कौल

आप जैसे अभिनेता को हम फिल्मों में काफी समय के बाद देखते हैं. क्या आपकी प्राथमिकता थियेटर ही है? थियेटर तो मेरी जिंदगी का अहम पहलू है ही लेकिन मुझे अच्छा लगता है कि मैं नई तरह की अभिव्यक्तियों से भी खुद को गुजारूं. जहां तक फिल्मों में अंतराल की