Issue wise archive | Tehelka Hindi

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

आंधी पानी से 16 की मौत; ताजमहल को नुकसान पहुंचा
जहां ब्रज में बुधवार को आए बवंडर ने चंद मिनटों में ऐसी तबाही मचाई कि 16 लोगों की मृत्यु हो गयी, वहीं दुनिया भर...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

भारत बंद के मद्देनज़र देश के विभिन्न हिस्सों में धारा 144 लागू
जाति आधारित आरक्षण के विरोध में बुलाये गए भारत बंद के मद्देनज़र देश के विभिन्न हिस्सों में निषेधाज्ञा आदेश लगाई गयी है। भारतीय दंड...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

हिमाचल हादसे में २६ स्कूल बच्चों सहित २९ की मौत
हिमाचल प्रदेश के काँगड़ा जिला में सोमवार (९ अप्रैल) की शाम एक स्कूल बस के करीब २०० फुट गहरी खाई में गिर जाने से...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

कर्नाटक चुनावः  बीजेपी ने जारी की 72 उम्मीदवारों की पहली सूची
भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी ) ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए 72 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है। बीजेपी ने मुख्यमंत्री उम्मीदवार...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

हिंदी का सम्मान कभी कम न होगा: हिमानी
हालांकि आज किसी व्यक्ति की काबिलियत उसके अंग्रेजी ज्ञान से आंकी जाती है, तब भी हिंदी में अच्छा साहित्य लिखा और पढ़ा जा रहा...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

शिक्षा केंद्रों की स्वायत्तता या बाजारीकरण
केंद्र की भाजपा नेतृत्व की एनडीए सरकार ने देश के 62 माने हुए शिक्षण संस्थानों को स्वायत्तता का तमगा देते हुए इनकी अचल संपत्तियों के लिहाज...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

केजरीवाल का माफी मांग कर जताना पश्चाताप!
पंजाब में अरविंद केजरीवाल की इज्जत का खत्म होना और उनकी आलोचना सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे द्वारा होना संकेत है शिरोमणि अकाली दल की...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

‘निजी सेनाओं’ की ज़रूरत क्या
राजनैतिक दल और लोग लोकतंत्र में अपनी-अपनी सेनाएं क्यों बनाते है? पिछले कुछ सालों में दक्षिणपंथी राजनैतिक दलों ने अपनी-अपनी सेनाएं खड़ी करनी शुरू कर...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

योगी सरकार के एक साल बाद भी विकास को तरसती जनता
लगभग साल ही पहले भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) के तेज तर्रार नेता योगी आदित्यनाथ ने देश की सबसे अधिक आबादी वाले और राजनीतिक रुप...

Volume 10, Issue 07 Back To Archive >

बिना बहस के बजट पास कराने का नुस्खा
यह शायद ही कभी सुना गया कि सरकारें संसद में बिना बहस के बजट पास करा लेती हैं। लेकिन इसी महीने यह भारत की...

Other Articles

हिंदी का सम्मान कभी कम न होगा: हिमानी

हालांकि आज किसी व्यक्ति की काबिलियत उसके अंग्रेजी ज्ञान से आंकी जाती है, तब भी हिंदी में अच्छा साहित्य लिखा और पढ़ा जा रहा है, लेखिका एम जोशी हिमानी ने तहलका को बताया। उत्तराखंड में जन्मी हिमानी हिंदी कहानीकारों में आज जाना माना नाम है। वर्ष 1991 में उनकी पहली  

शिक्षा केंद्रों की स्वायत्तता या बाजारीकरण

केंद्र की भाजपा नेतृत्व की एनडीए सरकार ने देश के 62 माने हुए शिक्षण संस्थानों को स्वायत्तता का तमगा देते हुए इनकी अचल संपत्तियों के लिहाज से अब इनका पूरी तौर पर निजीकरण करने का फैसला लिया है। हालांकि स्वायत्तता का मतलब यह नहीं है कि अब इनमें ज़्यादा वैचारिक आज़ादी होगी, शोध  

केजरीवाल का माफी मांग कर जताना पश्चाताप!

पंजाब में अरविंद केजरीवाल की इज्जत का खत्म होना और उनकी आलोचना सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे द्वारा होना संकेत है शिरोमणि अकाली दल की मजबूत वापसी। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने अभी पिछले ही दिनों पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रमजीत सिंह मजीठिया  

‘निजी सेनाओं’ की ज़रूरत क्या

राजनैतिक दल और लोग लोकतंत्र में अपनी-अपनी सेनाएं क्यों बनाते है? पिछले कुछ सालों में दक्षिणपंथी राजनैतिक दलों ने अपनी-अपनी सेनाएं खड़ी करनी शुरू कर दी हैं और उनसे इस पर सवाल करने की हिम्मत किसी में नहीं है। जब पुलिस और अर्धसैनिक बल मौजूद हैं तो ’निजी सेना’ क्यों? ‘निजी सेनाÓ रखने की  

योगी सरकार के एक साल बाद भी विकास को तरसती जनता

लगभग साल ही पहले भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) के तेज तर्रार नेता योगी आदित्यनाथ ने देश की सबसे अधिक आबादी वाले और राजनीतिक रुप से महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का पद ग्रहण किया था। तब वे संघ परिवार के सबसे पसंदीदा विकल्प के रूप में उभरे थे। आरएसएस  

बिना बहस के बजट पास कराने का नुस्खा

यह शायद ही कभी सुना गया कि सरकारें संसद में बिना बहस के बजट पास करा लेती हैं। लेकिन इसी महीने यह भारत की लोकसभा में हुआ। विधायिका का सबसे महत्वपूर्ण कागजात वित्तीय विधेयक होता है जिसमें पूरे साल भर देश की वित्तीय मार्गदर्शिका होती है जो बिना किसी बहस  

लेकिन विजयी होंगे नरेंद्र भाई ही

भाजपा की उपचुनावों में हार, एनडीए गठबंधन में टूट, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की रैलियों में भीड़ के बावजूद ऐसा अंदेशा है कि 2019 में भाजपा शायद ही हारे। इसकी वजह यही है कि विपक्ष अभी एकजुट नहीं है। वजह अभी भी नरेंद्र दामोदर दास मोदी तमाम विपक्षी दलों के  

सवालों को लांघती राजनीति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के बाद कहा था कि,Óतेलंगाना को पृथक राज्य बनाने की मंजूरी देकर कांग्रेस ने अपना चुनावी स्वार्थ साधा और जल्दी की। यह मोदी का कहना आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू द्वारा ’भाजपाÓ से गठबंधन तोड़ लेने की धमकी के  

भाजपा-कांग्रेस से दूर वैकल्पिक मोर्चे की पहल

भाजपा-कांग्रेस से दूर वैकल्पिक मोर्चो बन रहा है पर क्षेत्रीय पार्टियों में महत्वपूर्ण माकपा इसमें फिलहाल नहीं है।  हालांकि इसकी तुलना में कम अनुभवी दक्षिण भारत के राजनीतिक दल इस बार वैकल्पिक मोर्चा बना रहे हैं लेकिन इसमें अभी माकपा की कहीं कोई चर्चा भी नहीं है। जबकि बंगाल की  

आसां नहीं डगर कर्नाटक की

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एक रैली में कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैय्या को सबसे भ्रष्ट मुख्यमंत्री बताने के चक्कर में गलती से अपने ही मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार येदियुरप्पा का नाम ले बैठे। हालांकि बगल वालों ने उन्हें उनकी गलती का अहसास करवा दिया। इस पर अपनी गलती को