फ्रांस

0
120

Team_Page_19


विश्व रैंकिंग: 17
सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन : विजेता (1998)

खास बात

फ्रेंक रिबेरी और समीर नासरी की अनुपस्थिति में मैथ्यू वाल्बुएना की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण हो जाती है. सामान्य तौर पर दाएं क्षेत्र में तैनात किए जाने वाले प्रतिभाशाली मैथ्यू से शायद ही कभी गेंद छूटती है. इसके साथ ही रक्षा पंक्ति को भेदने वाले मौकों पर उनकी खास नजर रहती है

स्टार खिलाड़ी फ्रेंक रिबेरी का चोटिल होने के कारण फुटबॉल विश्व कप से बाहर होना फ्रांस की टीम के लिए बड़ा झटका है. बायर्न म्यूनिख के इस 31 वर्षीय फॉरवर्ड से पूरी टीम ये उम्मीद लगाए बैठी थी कि वह जरूर इस बार उसके नेतृत्व में विश्व कप ले आएगी. ब्राजील में पूरी टीम रिबेरी की कमी महसूस कर रही है. एक तरफ रिबेरी टीम से बाहर हैं, वहीं कोच डिडियर डैशचैम्प्स के उस निर्णय ने भी टीम के कप जीतने की उम्मीदों पर सवालिया निशान लगा दिया है जिसके तहत उन्होंने मैनचेस्टर सिटी के मिडफील्डर समीर नासरी को टीम में शामिल नहीं किया. डैशचैम्प्स का कहना था कि 41 मैच खेल चुके नासरी विश्व कप की उनकी योजनाओं में फिट नहीं बैठते क्योंकि विश्व कप के लिए चुनी गई टीम में शामिल खिलाड़ियों की तुलना में उनका प्रदर्शन कमजोर रहा है.टीम में प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की भरमार होने के बावजूद फ्रांस 2008 के यूरो कप और 2010 के विश्व कप में एक भी मैच नहीं जीत पाया. हालांकि ग्रुप ई में स्विट्जरलैंड, होंडुरास, इक्वेडोर के साथ शामिल फ्रांसीसी टीम के इस बार कुछ बेहतर करने की उम्मीद जताई जा रही है. रियल मैड्रिड के रफेल वराने के रूप में फ्रांसीसी टीम के पास एक बेहतरीन डिफेंडर है. फ्रैंक रिबेरी टूर्नामेंट से बाहर हैं, लेकिन फिर भी टीम की रक्षापंक्ति बेहद मजबूत है. फ्रांस के शानदार गोलकीपर ह्यूगो लौरिस के अलावा अनुभवी डिफेंडर पैट्रिस एव्रा, लॉरेन्ट कोसाइनली और रफाएल वरान टीम की ताकत हैं. इसके अलावा मिडफील्डर पॉल पोग्बा अपने फॉरवर्ड खिलाड़ी करीम बेंजेमा और ऑलिवर जिरू के लिए मैजिक पास देकर गोल के मौके बना सकते हैं. हाल ही में हुई चैंपियंस लीग में करीम रियल मैड्रिड की जीत के सबसे बड़े सितारे रहे. रिबेरी के अनुपस्थिति में ऑलिवर एक बड़ी भूमिका में रहेंगे. और न्यूकैसल के लॉइक रेमी एक सूपरसब (विकल्प) के तौर पर मददगार साबित हो सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here