सिनेमा Archives | Page 2 of 3 | Tehelka Hindi — Tehelka Hindi
चाट मसाला

फिल्मी दुनिया की चटपटी खबरें  

एलबमः किक

चूंकि हम किक के गीतों को छोड़ कई तरह की बेजा बातें करेंगे, इसलिए यह जानना जरूरी है कि हम चार के चौदह किए गीतों की बात क्यों नहीं करेंगे. जब सलमान ने अपना पहला गाना गाया, ‘चांदी की डाल पर सोने का मोर’, यार-रकीबों ने कहा था, ‘भाई ने  

प्यार पूंजीवादी नहीं चाहिए…

हमारी फिल्मी प्रेम कहानियों में, ज्यादातर में, परतें नहीं होती, परत-दर-परत खुलते-बनते-बिगड़ते-सिसकते रिश्ते नहीं होते. वे सतह पर ही टहलती हैं, वहीं बिखरे पड़े पॉपकार्न खाने में व्यस्त रहती हैं. हंप्टी शर्मा की दुल्हनिया, जो अपने कुछ हिस्सों में मजेदार है, प्यार को पूंजीवाद का शिकार बना देती है, ऐसा  

कहां से लाए हो ये आग, भक्क से जला है दिल

हम सभी विस्थापित आत्माएं हैं. मजबूरी में या फिर मर्जी से प्रवासी बनकर टूटे शरीर की आत्माएं. आत्माएं घाव छुपा लेती हैं, शरीर उन्हें अनुभव बना खुद पर सजा लेता है. छूटे हुए बिस्तरों के अनुभव, दड़बों जैसे कमरों के, खिड़की-रोशनदान न होने के, कोनों के, उन कोनों को बार-बार  

बड़ा कागजी है पैरहन

2 स्टेट्स आसानी से 3 इडियट्स हो सकती थी. उसे बस अर्जुन कपूर को छिपाना था और हिरानी-आमिर को फिल्म से जोड़ना था. और अगर यह मुश्किल था तो कम से कम उसे हिरानी की 3 इडियट्स को बार-बार देखना था ताकि वह समझ सके कि जिस फील गुड सिनेमा  

‘पांच साल में पूरी तरह बदल जाएगा हमारा सिनेमा’

फिल्म निर्देशक सुधीर मिश्रा से खास बातचीत.  

रानी की अकथ कहानी

मुंबई की सीली हवा में इन दिनों रानी मुखर्जी के बारे में तरह-तरह की चर्चाएं हैं. उनके दिन लद गए, उनमें अब वह बात नहीं रही, उन्होंने आदित्य चोपड़ा के साथ शादी कर ली है, वे भी रेखा की तरह अपनी ही दुनिया में सिमट गई हैं वगैरह वगैरह. क्या