बेसुरे हम भी नहीं Archives | Tehelka Hindi — Tehelka Hindi
किस्सा खिसियानी बिल्ली का

खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे। मुहावरा आप सबने सुना होगा। पर यहां तो खंबे की जगह बुत ही गिरा दिए गए। नोचना-कचोटना तो आदमी का काम है। हमारे यहां ऐसा कुछ नहीं होता। हमारे बुत कहीं-कहीं लगते हैं। पर वह मसखरी के लिए, उन्हें कोई नहीं तोड़ता। इंसान भी बड़े अजीब प्राणी