अटल तिवारी, Author at Tehelka Hindi — Tehelka Hindi
अटल तिवारी
Atal Tiwari
Articles By Atal Tiwari
‘राम आडवाणी का जाना लखनऊ देखने के आईने का बिखरना है’

चार साल पहले की बात है. लखनऊ का दिल कहे जाने वाले हजरतगंज में किताबों की एक दुकान पर एक शोधार्थी पहुंचा. उसने चार हजार रुपये से अधिक की किताबें निकालीं पर जब पैसे देने की बारी आई तो उसकी जेब से मुश्किल से दो हजार रुपये ही निकले. उसने  

ख्वाजा अहमद अब्बास – परिवर्तन का पुरोधा

यह ख्वाजा अहमद अब्बास का जन्मशती वर्ष है. वे बड़े लेखक, अफसानानिगार, फिल्म लेखक, पत्रकार और निर्देशक भी थे. वे प्रगतिशील आंदोलन से भी जुड़े थे. उनका स्तंभ लास्ट पेज भारतीय पत्रकारिता के इतिहास का चिरस्थायी हिस्सा रहेगा