हिसाब मामले को साम्प्रदायिक रंग: मद्रास हाईकोर्ट ने पूछा – ‘राष्ट्र सर्वोपरि है या धर्म?’

मद्रास उच्च न्यायालय ने गुरुवार को हिजाब से जुड़े विवाद को लेकर देश में धार्मिक सौहार्द्र को नुकसान पहुँचाने की बढ़ती प्रवृत्ति पर गंभीर चिंता जताई। कोर्ट ने हैरानी जताते हुए सवाल किया कि राष्ट्र सर्वोपरि है या धर्म?

कर्नाटक में हिजाब से जुड़े विवाद पर चल रही घटनाओं पर कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश एमएन भंडारी और न्यायमूर्ति डी भरत चक्रवर्ती की पीठ ने कहा कि कुछ ताकतों ने ‘ड्रेस कोड’ को लेकर विवाद उत्पन्न किया है और यह पूरे भारत में फैल रहा है। बता दें हिसाब पहनने से रोके जाने के खिलाफ छात्राओं ने याचिका दायर की है।