हिमाचल में भारी बारिश, ५ जिलों में स्कूल बंद

कई जगह पहाड़ गिरने से वाहन दबे, आध दर्जन लोगों की मौत

0
990

हिमाचल के ज्यादातर जिलों में पिछले १२ घंटे से जारी भारी बारिश ने पूरा जीवन अस्त व्यस्त कर दिया है। पांच जिलों में स्कूल बंद कर दिए गए हैं और काम से काम १८५ बड़ी और छोटी सड़कें बंद हो गयी हैं। पिछले ४८ घंटों में बारिश की बजह से बने कारणों से ६ लोगों की मौत हो गयी है जिनमें बरोटीवाला में एक ही परिवार के ३ लोग भी शामिल हैं। शिमला में पिछले १२ घंटे से जारी बारिश के कारण कई जगह पेड़ गिरने और रस्ते बंद होने की सूचना है। चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे भी बंद पड़ा है। मलवा गिरने से प्रदेश भर में कम से कम एक दर्जन वाहन मिट्टी के नीचे दब गए हैं। शिमला-चंडीगढ़ मार्ग भी चक्की मोड़ के पास बंद हो गया है।

रविवार रात से जारी भारी बारिश के बाद शिक्षा विभाग और प्रसाशन ने सोमवार सुबह पांच जिलों में स्कूलों को बंद रखने का आदेश जाई किया है। इनमें शिमला, सिरमौर, कुल्लू, काँगड़ा, मंडी और सोलन जिले शामिल हैं। फिलहाल एक दिन की छुट्टी घोषित की गयी है। शिमला के उपायुक्त अमित कश्यप के मुताबिक शिमला जिले में भारी बारिश के कारण प्रशासन ने 13 अगस्त को जिला के सभी सरकारी और निजी स्कूलों (जमा दो तक) को बंद रखने का निर्णय किया है। इस संबंध में सभी उपमंडल अधिकारियों को भी निर्देश जारी किए गए हैं।

उधर एडीएम सोलन विवेक चंदेल ने जानकारी देते हुए बताया कि भारी बरसात के चलते जिला सोलन के सभी स्कूलों, कॉलेजों व आंगनवाड़ी केंद्रों में छुट्टी कर दी गई है। तेज बारिश के चलते जलस्तर काफी बढ़ गया है। लोग नदी किनारे भी न जाएं। भूस्खलन होने का अंदेशा हर समय बना हुआ है। कालका-शिमला हाईवे में बार-बार बड़ी चट्टानें और मलबा बारिश के चलते सड़कों पर गिर रहा है जिसके कारण बार-बार लम्बा जाम लग रहा है। ऐसे में लोग देख कर सफर करें। उन्होंने कहा कि हो सके तो निर्माणधीन नेशनल हाईवे में दोपहिया वाहनों से सफर करने से बचें। उन्होंने लोगों से अपील की कि बरसात के चलते नदी-नालों से दूर रहें ताकि जानमाल के नुकसान से बचाव हो सके।

मंडी जिला में भारी बारिश का कहर छाया हुआ है। डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि भूस्खलन के चलते एनएच 20 और 21 भी बंद हैं इसके अलावा अधिकतर संपर्क मार्ग भी बंद हो गए हैं। प्रशासन ने लोगों से ऐहतियात बरतने को कहा है। हमीरपुर की उपयुक्त ऋचा वर्मा ने कहा अगर शाम तक मौसम साफ न हुआ तो 14 अगस्त स्कूलों में भी रहेगी छुट्टी। डीसी कांगड़ा संदीप कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि भारी बरसात के चलते 13 अगस्त को कांगड़ा जिला में सभी स्कूल बन्द रहेंगे।

इस बीच सोमवार तड़के करीब ४ बजे चिंतपूर्णी शम्भू बैरियर के समीप सड़क धंसने के कारण श्रद्धालुओं से भरी एक कार खाई में जा गिरी। हादसे में तीन वर्षीय बच्ची की मौत हो गई। हादसे के बाद कार एक पेड़ पर अटक गई थी जिससे कार सवार अन्य तो बच गए लेकिन बच्ची की मलबे में दबने से मौत हो गई। काफी मशक्कत के बाद बच्ची को ढूंढा गया लेकिन तब तक देर हो चुकी थी।

पूरा परिवार पंजाब के कपूरथला का रहने वाला बताया जा रहा है जो कि चिंतपूर्णी माथा टेकने आया था। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। उधर सोलन जिले के बरोटीवाला में रविवार तड़के एक झुग्गी पर दिवार आ गिरने से एक ही परिवार के ३ लोगों की मौत हो गयी। इनमें चार साल की बच्ची और उसके माता-पिता शामिल हैं।