हिमाचल में फिर बर्फबारी

जनजीवन पर असर; कई जगह बसें, बिजली बंद

0
457
फोटो : वासु अहलूवालिया

हिमाचल में रविवार को दोबारा हिमपात होने से पूरे प्रदेश में कड़ाके की ठण्ड पड़ रही है। राजधानी शिमला के अलावा किन्नौर, चंबा, कुल्लू और लाहुल-स्पीति सहित प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में शनिवार रात और रविवार को   भारी हिमपात हुआ है।
प्रदेश के निचले इलाके में हल्की बारिश हुए है जिससे पूरे प्रदेश में शीतलहर जैसी हालत है। शिमला में बर्फबारी से यहाँ आये सैलानी खुश हैं। बर्फबारी से शिमला शहर में ज़रुरत की चीजें कई जगह पहुँच नहीं पाएं जिनमें अखबार, ब्रेड, दूध शामिल हैं। जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। ठंड से लोग घरों के अंदर दुबके हुए हैं।
ताजा बर्फबारी से घाटी के किसान और बागवानों के चेहरे पर रौनक लौट आई है और जनवरी की इस बर्फबारी से लाहुल के किसानों, बागवानों को अच्छी फसल की उम्मीद जग गई है जिससे घाटी के लोग खुश हैं।
राजधानी पहुँची रिपोर्ट्स के मुताबिक रोहतांग में ६ फुट, सोलंगनाला में ढाई फुट, केलंग में ४ इंच ताजा बर्फबारी हुई है। धर्मशाला के ऊपर धौलाधार की पहाड़ियों पर भी बर्फ की सफेद चादर बिछ गई है।
राजधानी शिमला से कुफरी, ठियोग, कोटखाई, खड़ापत्थर, जुब्बल, हाटकोटी, रोहड़ू, चिढ़गांव, डोडरा क्वार, नारकंडा और चौपाल की सभी रास्ते बर्फबारी के कारण बंद हो गए हैं। किन्नौर और रामपुर के लिए वाया धामी बसंतपुर से बसें जा रही हैं।
शिमला में मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि कल (सोमवार) को भी मौसम ख़राब रहेगा। ”ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फ़बारी और निचले इलाकों में बारिश हो सकती है।” बर्फबारी वाले इलाकों में परिवहन निगम की बसों के पहिए थम गए हैं। निजी बसें भी कई जगह बंद हैं। लोगों को इससे दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।