हरियाणा, महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव २१ अक्टूबर को

उपचुनावों की तारीखों की भी घोषणा की चुनाव आयोग ने

0
1128
हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा कर दी गयी है। दोनों राज्यों में २१ अक्टूबर को मतदान होगा। २४ अक्टूबर को वोटों की गिनती होगी। नामांकन की आखिरी तारीख ४ अक्टूबर होगी। चुनाव की घोषणा के साथ ही आचार संहिता लागू हो गयी है।
चुनाव आयोग ने आज एक प्रेस कांफ्रेंस करने इन तारीखों का ऐलान किया। हरियाणा में 1.03 लाख बैलेट यूनिट हैं, जबकि महाराष्ट्र में 1.8 लाख बैलेट यूनिट जबकि 1.28 लाख सीयू और 1.39 लाख वीवीपैट मशीनें हैं। याद रहे हरियाणा में विधानसभा की अवधि २ नवंबर जबकि महाराष्ट्र में चुनाव अवधि ९ नवंबर तक थी।
हरियाणा में ९० विधानसभा सीटें हैं। विधानसभा के २०१४ के चुनाव में भाजपा को ४७ सीटें मिली थीं। उस चुनाव में कांग्रेस को १७ और इनेलो को १९ सीटें मिली थीं। छोटे दलों बसपा और अकाली दल ने एक-एक सीट जीती थी। इनके  पांच सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार  भी जीते थे। इस बार भाजपा मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में दुबारा जीत के लिए पूरी म्हणत कर रही है जबकि कांग्रेस ने भूपिंदर सिंह हुड्डा और दलित नेता शैलजा को कमान सौंप भाजपा के लिए कड़ी चुनौती पेश की है।
उधर महाराष्ट्र विधानसभा में २८८ सीटें हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने १२२ सीटें जीती थीं जबकि सहयोगी शिवसेना को ६३ सीटों पर जीत मिली थी। कांग्रेस को ४२ जबकि उसकी सहयोगी एनसीपी ने ४१ सीट पर जीत दर्ज की थी। देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में भाजपा चुनावी जंग जीतने की जीतोड़ कोशिश में है। सूबे में भाजपा-शिव सेना में समझौता लगभग तय है जबकि कांग्रेस और एनसीपी भी एकसाथ लड़ेंगे। आरपीआई जैसे कुछ छोटे दल भी गठबंधन में हैं।