स्वतंत्रता दिवस पर आतंकी साजिश बेनकाब

जम्मू में ८ ग्रेनेड के साथ लश्कर आतंकी गिरफ्तार, दिल्ली जाने की फिराक में था

0
952

स्वतंत्रता दिवस में बड़ी आतंकी साजिश पुलिस ने बेनकाब कर दी है। उसने सोमवार को जम्मू के गाँधी नगर में एक आतंकी को हथियारों और गोला बारूद के साथ पकड़ा है। यह आतंकी दिल्ली जाने की तैयारी में था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक गांधी नगर पुलिस स्टेशन में दिल्ली पुलिस की स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के अधिकारी पकडे गए आतंकी से पूछताछ कर रहे हैं। इस आतंकी की पहचान अरफान हुसैन वानी पुत्र गुलाम हुसैन वानी है और वो कश्मीर के अवंतीपोरा में डंगर गाँव का निवासी बताया गया है। उससे पूछताछ के दौरान पता चला है कि वो दिल्ली में स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान फिदायीन हमले की साजिश को अंजाम देने के इरादे से भारत आया था। उसने कबूल किया है कि वो आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) से जुड़ा है। वो जम्मू के गांधी नगर क्षेत्र में पुलिस के हाथ लगा। उसके पास बैग से चीन निर्मित आठ यूबीजीएल ग्रेनेड बरामद हुए हैं।

पता चला है कि यह आतंकी रविवार को पुलवामा से जम्मू पहुंचा और वहां से गांधीनगर आया। रिपोर्ट्स के मुताबिक अरफान दिल्ली जाने वाली बस में सवार होने की तैयारी कर रहा था। सुरक्षा एजेंसियों को उसकी भनक लग गई और वह पकड़ा गया। पकडे आतंकी से पूछताछ की जा रही है। अभी यह पता नहीं चला है कि क्या उसके और साथी भी जम्मू या किसी और जगह आये हैं।

अरफान से पूछताछ में यह साफ़ हो गया है कि वह स्वतंत्रता दिवस पर जम्मू या दिल्ली में सीरियल ब्लॉस्ट करने की योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए पकिस्तान से यहाँ भेजा गया था। उसने कबूल कबूल किया है कि उसे पाकिस्तान और कश्मीर में बैठे आतंकी नेताओं ने निर्देश दिए।

समझा जाता है कि अरफान हो सकता है कि पहले ही दिली या जामु में मौजूद अपने साथियों को गोला बारूद देने के लिए यहाँ आया हो।

खुफिया एजेंसियों ने पहले ही दिल्ली में 72वेें स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान आतंकी फिदायीन हमले के संभावित खतरे को लेकर अलर्ट जारी किया हुआ है। इस अलर्ट के बाद दिल्ली एनसीआर में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया। किसी भी साजिश को नाकाम करने के लिए तमाम सुरक्षा एजेंसियां चौकन्नी हैं। दिल्ली के लाल किले के आसपास भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है और मेट्रो की सुरक्षा में लगी सीआइएसएफ को अत्याधिक सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किये गए हैं।