सुषमा को श्रद्धांजलियों का तांता

कोविंद, आडवाणी, जोशी, मोदी, सोनिया समेत तमाम बड़े नेताओं ने श्रद्धांजलि दी

0
1011

पूर्व विदेश मंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज के निधन पर देश भर में शोक है। दिल्ली में उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा है। सुबह से ही नेता और प्रशंसक उनके निवास पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे और अब उनकी पार्थिव देह भाजपा मुख्यालय लाई गयी है ताकि वहां लोग उनके अंतिम दर्शन कर सकें। सुषमा का पिछली रात करीब ९.३० बजे दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, वरिष्ठ भाजपा नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, पीएम नरेंद्र मोदी, कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, राहुल गांधी जैसे बड़े नेताओं ने सुषमा के आवास पर जाकर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किये और परिजनों से संवेदना जताई। उधर राज्य सभा की आज की कार्यवाही शुरू होते ही सुषमा को श्रद्धांजलि दी गयी।
पीएम मोदी सुषमा स्वराज के पति स्वराज कौशल से मुलाकात की और संवेदना प्रकट की। इस दौरान मोदी भावुक भी हुए। आडवाणी भी परिजनों से मिलते हुए सुबक पड़े। अपनी साथी को खोने का दर्द उनके चेहरे पर साफ झलक रहा था। आडवाणी के साथ उनकी पुत्री प्रतिभा आडवाणी भी थीं।

सुषमा को श्रद्धांजलि देने के लिए गृह मंत्री अमित शाह, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, राहुल गांधी और अन्य कई नेता उनके निवास पर पहुंचे। सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि देने पहुंचे समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव भावुक हो गए। सुषमा के पति स्वराज से मिलते वक्त वह अपने आंसू नहीं रोक पाए।

सुषमा के निधन पर सभी राजनीतिक दलों के नेताओं ने शोक व्यक्त किया है। कई केन्द्रीय मंत्री, भाजपा और कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता और कई अन्य लोग रात में ही उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे गए थे। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद न केवल पिछली रात ही अस्पताल पहुंचे रात को ही सुषमा के आवास पर  भी गए।

इस बीच दिल्ली सरकार ने सुषमा स्वराज के निधन पर दो दिन का राजकीय शोक का ऐलान किया है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस निर्णय की घोषणा की।

आज सुबह राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सुषमा स्वराज को उनके घर पर पहुंचकर श्रद्धांजलि दी। यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव, भाजपा सांसद रवि किशन, नेता कैलाश विजयवर्गीय, हेमा मालिनी, बाबा रामदेव आदि अन्य कई नेता भी सुषमा को श्रद्धांजलि देने के लिए उनके घर पहुंचे। अब सुषमा की पार्थिव देह २.३० बजे तक अंतिम दर्शन के लिए भाजपा कार्यालय में रखा जाएगा।  उनका अंतिम संस्कार ३ बजे लोधी रोड स्थित शमशान घाट पर किया जाएगा।

विदेश से भी सुषमा के निधन पर शोक सन्देश आ रहे हैं। बंगलादेश की पीएम शेख  हसीना ने पिछली रात ही सुषमा के निधन पर ट्वीट कर शोक सन्देश दिया। नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली, अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई, फ्रांस के राजदूत एलेक्जेंडर जीग्लर, मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहीद ने शोक जताया है।

देश के विभिन्न हिस्सों में सुषमा के निधन की खबर से शोक है। कार्यकर्ता विश्वास  पा रहे कि सुषमा अब उनके बीच नहीं रहीं। दूर-दूर से उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए भाजपा कार्यकर्ता दिल्ली पहुँच रहे हैं।