सियासतदानों की मुलाकातों का दौर

नतीजों से पहले नायुडू सक्रिय, कल एनडीए की भी डिन्नर बैठक

0
528

लोकसभा चुनाव २०१९ के एक्जिट पोल आ चुके हैं और असली नतीजे २३ को आ जायेंगे। इस बीच राजनीतिक दलों में बैठकों का दौर शुरू हो गया है। भले एग्जिट पोल में भाजपा/एनडीए को साफ़ बहुमत का दावा किया गया है, विपक्षी दलों ने इसे सिरे से खारिज करते हुए बैठकों का सिलसिला जारी रखा है।
एनडीए की मीटिंग मंगलवार को बुलाई गयी है जबकि एग्जिट पोल से पहले से ही सक्रिय आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायुडू तमाम बड़े नेताओं से मुलाकातों का सिलसिला जारी रखे हुए हैं। सोमवार को सपा नेता अखिलेश यादव ने बसपा नेता मायावती से मुलाकात की जबकि आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू  लगातार विपक्ष के नेताओं से मुलाकातों का दौर जारी रखे हुए हैं। पिछले दो दिन में नायुडू दो-दो बार सोनिया गांधी, राहुल गांधी, अखिलेश यादव, मायावती, शरद पवार, अरविंद केजरीवाल समेत कई बड़े नेताओं से मुलाकात कर चुके हैं।
नायडू आज शाम कोलकाता में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात करेंगे। नायुडू इसके बाद दुबारा नई दिल्ली आएंगे और बड़े विपक्षी नेताओं से  मिलेंगे।
उधर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को दिल्ली के होटल में एनडीए की डिन्नर पर मीटिंग बुलाई है। इसमें सम्भवता चुनाव के संभाईत नतीजों पर और एग्जिट पोल नतीजों पर चर्चा की जाएगी। यह भी सम्भावना है कि एनडीए सहयोगी ”मोदी के नेतृत्व में भरोसा” जतायें।
इस बीच भाजपा नेताओं निर्मला सीतारमण, मुख्तार अब्बास नकवी और अन्य ने सोमवार को चुनाव आयोग मुलाकात की और बंगाल में चुनाव में हिंसा को लेकर अपना प्रतिरोध जताया। साथ ही वहां ईवीएम की सुरक्षा में सीआरपीएफ को रखने की मांग की। यही बात कल रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी कही थी। मंगलवार को आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू मंगलवार भी चुनाव आयोग पहुंचेंगे हालांकि उनका वहां प्रदर्शन करने का कार्यक्रम है। विपक्ष की मांग वीवीपैट की गिनती में ५० फीसदी पर्ची मिलान की है और यह धरना इसी को लेकर होगा।
उधर लखनऊ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने बसपा प्रमुख मायावती के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की। हालांकि इस मुलाकात के बाद अखिलेश ने मीडिया के किसी भी सवाल का जवाब नहीं दिया।