सबूतों की कमी के चलते पंचकूला हिंसा के सभी आरोपी बरी

0
1004

हरियाणा के पंचकूला में यौन शोषण के दोषी और डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सीबीआई कोर्ट में सजा सुनाए जाने के बाद हुई हिंसा के मामले में सभी आरोपियों को सबूतों की कमी के चलते बरी कर दिया गया है।

अनुयायी ज्ञानीराम, संगा सिंह, होशियार सिंह, रवि, तर्सेम और राम किशन पर गुरमीत राम रहीम सिंह को बलात्कार का दोषी ठहराए जाने के बाद हुए दंगों में लिप्त होने का आरोप लगा था।

पंचकूला हिंसा के मामले में पंचकूला पुलिस ने एसआईटी गठित कर आरोपियों की धरपकड़ की और 19 आरोपियों के नाम एफआईआर नंबर 343 में शामिल किए गए थे। इन लोगों पर देशद्रोह व हत्या समेत अन्य धाराएं लगाई गई थीं।

राम रहीम को रेप के 2 अलग-अलग मामलों में दोषी ठहराया गया था। जिसके बाद 25 अगस्त को हिंसा भड़की थी। राम रहीम को 20 साल की सजा सुनाई गई थी। राम रहीम अभी रोहतक की सुनरिया जेल में बंद है।