विंबलडन २०१८ : जोकोविक पुरुष, केर्बर महिला चैंपियन

0
2035

तीन बार के चैंपियन सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने रविवार रात विम्बल्डन टेनिस चैंपियनशिप के पुरुष एकल फाइनल में केविन एंडरसन को 3-० से हराकर ख़िताब जीत लिया। तीसरे सेट को छोड़कर एंडरसन पहले दो सेट में जोकोविक का बेहतरीन मुकाबला नहीं कर पाए।

जोकोविच ने पहला सेट ६-२ से और दूसरा सेट ६-2 से जीतकर मनोविज्ञानिक बढ़त बना ली थी।  हालाँकि तीसरे सेट में एंडरसन ने बेहतरीन खेल दिखाया।  ५-५ की बराबरी पर दोनों में कड़ा मुकाबला दिखा जबकि एक मौके पर एंडरसन ६-५ की बढ़त बनाकर सेट जीतने के कगार पर थे लेकिन जोकोविक ने मुकाबला ६-६ की बराबरी पर ला दिया।

ड्यूज के बाद पहला अंक गवाने के बाद जोकोविक ने लगातार पांच अंक अर्जित किये जिसके बाद एंडरसन ने एक अंक लिया। लेकिन जोकोविक ने वापसी की और ७-६ से जीत लिया।  विजेता बन कर ही सांस ली। यह उनका चौथा ख़िताब है।

इससे पहले एंडरसन ने पहले ‍सर्विस की, लेकिन वे पहले ही गेम में अपनी सर्विस बरकरार नहीं रख पाए। 30-40 के स्कोर पर एंडरसन ने डबल फॉल्ट किया और गेम जोकोविच के कब्जे में चला गया। इसके बाद जोकोविच ने दूसरा गेम जीतते हुए 2-0 की बढ़त बनाई। जोकोविच ने इसके बाद पांचवें गेम में भी एंडरसन की सर्विस भंग की और वे देखते ही देखते 4-1 से आगे हो गए। इसके बाद उन्होंने कुल ‍29 मिनट में पहला सेट 6-2 से जीता।

जोकोविच ने दूसरे सेट में भी दबदबा बनाए रखा। उन्होंने पहले गेम में एंडरसन की सर्विस भंग की। इसके बाद उन्होंने पांचवें गेम में भी केविन की सर्विस भंग करते हुए सेट में 4-1 की बढ़त बनाई। इसके बाद जोकोविच ने आठवें गेम में सर्विस बरकरार रखते हुए यह सेट 6-2 से अपने नाम किया।

एंडरसन पहली बार इस चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचे थे जबकि जोकोविच ने सेमीफाइनल में दो बार के चैंपियन रफेल नडाल को 6-4, 3-6, 7-6 (9), 3-6, 10-8 से हराकर खिताबी मुकाबले में जगह बनाई। आज जोकोविच ने करिअर का १३वां ग्रैंड स्लैम खिताब जीता।

केर्बर ने सेरेना को हराया

उधर महिला वर्ग में पूर्व नंबर एक जर्मनी की एंजेलिक केर्बर ने सात बार की चैंपियन अमेरिका की सेरेना विलियम्स को ६-3, 6-3 से हराकर विंबलडन टेनिस चैंपियनशिप में पहली बार महिला वर्ग का  खिताब जीत लिया। ३६ साल की सेरेना मां बनने के बाद अपने पहले ग्रैंड स्लेम और आठवें विंबलडन खिताब की तलाश में थीं लेकिन हार के साथ उनका २४ वां ग्रैंड सलेम खिताब जीतने का सपना टूट गया।

इस टूर्नामेंट में इस बार उन्हें  25वीं वरीयता मिली थी। सेरेना शानदार प्रदर्शन करते हुए फाइनल में तो पहुंची। केर्बर ने पूरे मुकाबले में शानदार प्रदर्शन किया और पूर्व नंबर एक सेरेना को कहीं टिकने नहीं दिया। केर्बर 5-3 के स्कोर पर खिताब के लिए सर्विस करते हुए नर्वस दिखाई दे रहीं थीं लेकिन उनके पहले चैंपियनशिप अंक पर सेरेना का बैकहैंड जैसे ही नेट से टकराया वह खुशी से उछल पड़ीं।

11 वीं वरीयता प्राप्त केर्बर का यह तीसरा ग्रैंड स्लेम खिताब है। इससे पहले उन्होंने 2016 में ऑस्ट्रेलियन ओपन और यूएस ओपन के खिताब जीते थे। टॉप 10 वरीय खिलाडिय़ों के बाहर हो जाने के बाद केर्बर महिला वर्ग में केर्बर शीर्ष वरीय खिलाड़ी रह गयी थीं और उन्होंने अपनी वरीयता के साथ पूरा न्याय किया। इसके साथ ही वह 1996 में स्टेफी ग्राफ की कामयाबी के बाद विंबलडन का खिताब जीतने वाली पहली जर्मन खिलाड़ी बन गयीं। फाइनल में हारने के बाद सेरेना ने विंबलडन के अपने प्रदर्शन को सभी मांओं को समर्पित किया। विंबलडन खिताब जीतने वाली आखिरी मां ऑस्ट्रेलिया की इवोन गुलागोंग थीं जिन्होंने 1980 में यहां खिताब जीता था।