वसुंधरा को सर्वोच्च न्यायालय का नोटिस

नेशनल हाईवे जमीन आवंटन से जुड़ा है मामला

0
359
राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को विधानसभा चुनाव से पहले झटका लगा है। नेशनल हाईवे   जमीन आवंटन के एक मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने उन्हें नोटिस भेजा है।
सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को वसुंधरा और उनके बेटे दुष्यंत सिंह को यह नोटिस भेजा है। सुप्रीम कोर्ट ने यह नोटिस एक याचिका की सुनवाई करते हुए भेजा जिसमें मुख्यमंत्री और उनके बेटे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है।
अपनी याचिका में याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया है कि वसुंधरा और दुष्यंत ने कथित तौर पर धौलपुर के पास एक जमीन के गैरकानूनी रूप से अपना होने का दावा किया। याचिका के मुताबिक इस जमीन को करीब १.९७ करोड़ रुपये में राष्ट्रीय राजमार्ग अथार्टी (एनएचएआई)  को बेच दिया। ये जमीन एनएचएआई ने २०१० में राष्ट्रीय राजमार्ग तीन को चौड़ा करने के लिए खरीदी थी।
राजस्थान में कुल २०० विधानसभा सीटें हैं और वहां एक ही चरण में सात दिसंबर को वोट पड़ेंगे। उससे ठीक पहले भाजपा के लिए यह मामला मुश्किल वाला साबित हो सकता है। कांग्रेस सूबे में पहले ही आगे मानी जा रही है और आजके नोटिस से भाजपा और बैकफुट पर आ सकती है।