वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह और पति के दफ्तर/ घर सीबीआई छापे

0
674

सीबीआई ने गुरूवार सुबह वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह और उनके पति आनंद ग्रोवर के दफ्तर और घर पर छापेमारी की। यह छापेमारी अब ख़त्म हो गयी है। अपनी प्रतिक्रिया में इंदिरा ने कहा – ”मेरे पति आनंद और मुझे टारगेट किया गया है।”
आज जो छापेमारी सीबीआई ने की है वह इंदिरा जय सिंह के एनजीओ को विदेशी चंदा नियमन अधिनियम के उल्लंघन मामले में मारे गए हैं। सीबीआई प्रवक्ता के मुताबिक दिल्ली और मुंबई दोनों जगह छापे मारे गए हैं। अब यह छापेमारी ख़त्म हो गयी है।
इस बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने इंदिरा जय सिंह के घर छापेमारी की निंदा की है। उन्होंने टि्वटर पर लिखा – ”मैं जाने-माने वरिष्ठ वकीलों इंदिरा जयसिंह और आनंद ग्रोवर पर सीबीआई छापों की कड़ी निंदा करता हूं… कानून को अपना काम करते रहना चाहिए, लेकिन जो दिग्गज सारी ज़िन्दगी कानून के शासन और संवैधानिक मूल्यों को बनाए रखने के लिए संघर्ष करते रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई साफ-साफ बदले की कार्रवाई है।”
गौरतलब है कि सीबीआई ने इंदिरा जय सिंह और आनंद ग्रोवर और और एनजीओ के लॉयर्स कलेक्टिव के खिलाफ विदेशी चंदा नियमन अधिनियम के उल्लंघन का मामला दर्ज किया था। सीबीआई का दोनों पर विदेशी फंड का गलत इस्तेमाल करने का आरोप है। यह मामला २००९ से २०१४ के बीच का जब इंदिरा जयसिंह एडिशनल सॉलिसिटर जनरल थीं। सीबीआई का आरोप है कि उनकी (इंदिरा जयसिंह) की विदेशी यात्रा पर खर्च गृह मंत्रालय की मंजूरी के बिना उनके एनजीओ के फंड से किया गया था।