लड़की को ‘एम्स’ शिफ्ट किया जाये : रिश्तेदार

रेवाड़ी गैंगरेप मामला : परिजनों ने कहा लड़की की स्टेटमेंट भी दोबारा ली जाये

0
967

रेवाड़ी गैंगरेप मामले में नया मोड़ आया है। पीड़िता के रिश्तेदारों ने उसकी हालत खराब बताते हुए उसे दिल्ली के ”एम्स” में शिफ्ट करने की मांग की है। उन्होंने पुलिस से पीड़िता की स्टेटमेंट दुबारा लेने की भी मांग की है और कहा है कि जब पहली स्टेटमेंट ली गयी पीड़िता अर्धबेहोशी की हालत में थी। लड़की के पिता ने इसके लिए सम्बंधित अधिकारियों को कुछ देर पहले पत्र लिखा है।

इस बीच लगातार बड़ रहे दवाब के बीच पुलिस ने रेवाड़ी गैंगरेप मामले में एसआईटी ने एक डाक्टर सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके साथ उसने छात्र को अगवा करने के लिए इस्तेमाल किये वहां को भी बरामद करने का दवा किया है। अभी तक मुख्या आरोपी फरार हैं और पुलिस ने उनके फोटो जारी किये हैं।

इस बीच पीड़िता छात्रा की हालत अभी अच्छी नहीं है हालाँकि उसके डिप्रेसन में जाने के खतरे को देखते हुए चिकित्सक और पुलिस लोगों को उससे मिलने नहीं दे रही। चिकित्सक उसके स्वास्थ्य पर बराबर नजर रखे हुए हैं। इस बीच एसआईटी की टीम ने पीड़ि‍ता को सबसे पहले देखने वाले दीन दयाल उपाध्याय अस्‍पताल के डॉक्‍टर और ट्यूबवैल के मालिक को भी आपराधिक साजिश के मामले के तहत गिरफ्तार किया है। वैसे तीनों मुख्या आरोपी अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। उन्हें पकड़ने के लिए पुलिस की छापेमारी जारी है।

राष्ट्रपति से सम्मानित हो चुकी छात्रा के साथ गैंगरेप के मामले में पुलिस ने सेना के एक कर्मी सहित तीन आरोपियों की फोटो जनता के लिए जारी की हैं ताकि उनकी पहचान हो सके। इनके नाम पुलिस ने पंकज, निशु और मनीष बताए हैं। पुलिस ने कल ही आरोपियों को पकड़वाने में मदद करने वालों  को एक लाख रुपये के इनाम की घोषणा की थी।