रोहित का दूसरी पारी में भी शतक

बनाया विश्व रेकॉर्ड, १२७ रन बनाकर हुए आउट, भारत २८६/४

0
827

टेस्ट मैच से पहले रोहित शर्मा को टेस्ट टीम में शामिल करने को लेकर कयास लगाए जा रहे थे। कहा जा रहा था कि वे टीम में होंगे या नहीं। लेकिन कप्तान विराट कोहली ने उनपर भरोसा जताया और जब रोहित टीम में आकर मैदान में उतरे तो उनका जलवा देखने लायक था। पहली पारी में शतक बनाने वाले रोहित ने दूसरी पारी में भी शनिवार को शतक ठोक दिया। इस तरह एक ओपनर के रूप में पहले ही मैच में दोनों पारियों में शतक बनाने वाले रोहित दुनिया के इकलौते बल्लेबाज बन गए है

टेस्‍ट क्रिकेट के १४२ साल के इतिहास में रोहित से पहले कोइ ओपनर बल्लेबाज ऐसा कारनामा नहीं कर पाया। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्‍तनम टेस्ट की दूसरी पारी में भी उन्होंने १३३ गेंदों का सामना करते हुए ९ चौकों और ४ छक्‍कों की मदद से अपना ५वां टेस्‍ट शतक पूरा किया। उन्‍होंने पहली पारी में १७६ रन बनाए थे।

रोहित दूसरी पारी में १० चौकों और ७ छक्‍कों की मदद से १२७ रन बनाकर आउट हुए। आउट होने से पहले रोहित ने लगातार तीन गेंदों में तीन छक्के मारकर दर्शकों को रोमांचित कर दिया। उन्‍हें केशव महाराज ने क्विंटन डी कॉक के हाथों स्‍टंप कराया। पहली पारी में भी रोहित स्‍टंप हुए थे।

वैसे एक टेस्‍ट की दोनों पारियों में शतक लगाने वाले रोहित छठे भारतीय बल्‍लेबाज हैं।  उनसे पहले विजय हजारे, सुनील गावस्‍कर, राहुल द्रविड़, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे यह कारनामा कर चुके हैं। हजारे, कोहली, रहाणे और रोहित ने यह कमाल एक-एक बार किया है जबकि गावस्‍कर ने ३ और द्रविड़ ने २ बार दोनों पारियों में शतक ठोके हैं।

भारत ने अभी तक २८६/४ बनाये हैं। जडेजा शानदार तेज ४० रन बनाकर आउट हुए। इससे पहले भारत को दूसरा झटका तब लगा जब चेतेश्वर पुजारा ८१ रन के निजी स्कोर पर आउट हुए। वर्नेन फिलेंडर ने पुजारा को एलबीडब्ल्यू आउट किया। उनसे  पहले केशव महाराज ने भारत को शुरुआती झटका देते हुए सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को पवेलियन भेजा। पहली पारी में शानदार दोहरा शलक लगाने वाले मयंक दूसरी पारी में मात्र ७ रन बनाकर आउट हो गए। भारत की लीड अब ३५९ रन की हो गयी है। कोहली (२३) और रहाणे (०) मैदान में हैं। रहाणे आज ही पिता भी बने हैं और उनकी पत्नी ने एक बेटी को जन्म दिया है।