राष्ट्रपति से मिल सरकार बनाने का दावा पेश किया मोदी ने

0
577

नरेंद्र मोदी, जिन्हें शनिवार शाम भाजपा और एनडीए संसदीय दल का नेता चुना गया था, ने बाद में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलकर नई सरकार बनाने का दावा पेश किया।
संसदीय दल की बैठक के बाद मोदी करीब साढ़े आठ बजे राष्ट्रपति भवन पहुंचे और राष्ट्रपति से मुलाकात की। राष्ट्रपति को एनडीए के ३५३ सांसदों का समर्थन पत्र देते हुए मोदी ने केंद्र में सरकार बनाने का दावा पेश किया।
इसके बाद राष्ट्रपति ने उन्हें देश की नई सरकार बनाने का न्योता दिया। इसके बाद राष्ट्रपति कोविंद ने मोदी को कार्यवाहक प्रधानमंत्री नियुक्त करते हुए उन्हें नयी सरकार का गठन करने को कहा है।
गौरतलब है इससे पहले मोदी को भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का नेता सर्वसम्मति से चुन लिया गया। इसके बाद पीएम मोदी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने राष्ट्रपति भवन पहुंचें, जहां उन्होंने सरकार बनाने का दावा पेश किया।
इससे पहले संसद के केंद्रीय कक्ष में नवनिर्वाचित सांसदों और वरिष्ठ नेताओं की बैठक में मोदी का चुनाव किया गया। राजग के वरिष्ठ नेताओं ने गठबंधन के नेता के तौर पर मोदी के चुनाव का समर्थन किया जिनमें जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और अकाली दल के प्रकाश सिंह बादल शामिल हैं।
राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति ने उन्हें कार्यवाहक प्रधानमंत्री नियुक्त किया है और नयी सरकार का गठन करने को कहा है। इससे पहले अमित शाह और एनडीए का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति से मिला और समर्थन का पत्र राष्ट्रपति को सौंपा।