योगी को गिरफ्तार करने वाला आईपीएस निलंबित

तब सांसद थे योगी, वेब पोर्टल को इंटरव्यू देना पड़ा भारी

0
1013

उत्तर प्रदेश की  योगी सरकार ने उन आईपीएस अधिकारी जसवीर सिंह को निलंबित कर दिया है जिन्होंने कभी महराजगंज में एसपी रहते हुए उस समय सांसद योगी आदित्यनाथ को गिरफ्तार किया था। जसवीर सिंह के निलंबन की बजह एक वेब  पोर्टल को दिया इंटरव्यू माना गया है जिसमें उन्होंने अपनी सर्विस से जुड़ी बातें साझा की थीं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक न्यूज पोर्टल पर यह इंटरव्यू प्रसारित होने पर सरकार ने इसे गंभीरता से लिया और अंतता उनका निलंबन कर दिया गया। इस समय वह अवर  पुलिस महानिदेशक रूल्स एंड मैनुअल पद पर तैनात हैं। जानकारी के मुताबिक उनके निलम्वन आदेश १४ फरवरी को जारी किये गए।

गौरतलब है कि आईपीएस जसवीर सिंह के पिता सेना में रहे हैं और खुद उनकी अपनी गिनती साफ-सुथरी छवि के पुलिस अफसरों में होती है। वैसे पिछली सरकारों में भी उनकी खटपट चलती रही है। उनके निलंबन आदेश में बजह विवादास्पद बयान देने और अनाधिकृत रूप से ड्यूटी से गायब रहना बताई गयी है।

आरोप है कि इंटरव्यू में जसवीर सिंह ने ऐसे बयान दिए, जो सरकारी अधिकारियों-कर्मियों के लिए बनाए गए आचरण नियमावली की शर्तों का उल्लंघन माने गए हैं। यह इंटरव्यू ३० जनवरी को आया था। महराजगंज का एसपी रहते वर्तमान मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने के एक मामले में रासुका लगाने की कार्रवाई उन्होंने शुरू की थी। प्रतापगढ़ में एसपी रहते हुए विधायक राजा भैया के खिलाफ कार्रवाई करने पर भी सुर्खियों में रहे थे। जसबीर होशियारपुर (पंजाब) के निवासी हैं।