यूपी में हमारा मकसद भाजपा को हराना : राहुल

0
835
यूपी के चुनाव मैदान में वोटकटवा प्रत्याशी वाले मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि कांग्रेस का मकसद उत्तर प्रदेश में भाजपा को हराना है। उनके मुताबिक जहां कांग्रेस के पास मजबूत प्रत्याशी नहीं, वहां  समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी की मदद कर रहे हैं। कुछ ऐसी ही बात कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी कही थी।
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि स्पष्ट है कि यूपी में धर्मनिरपेक्ष गठबंधन जीतने जा रहा है, इसे लेकर कोई शंका ही नहीं है। चाहे बसपा-सपा हो या कांग्रेस, धर्मनिरपेक्ष गठबंधन ही जीत रहा है। राहुल ने कहा – ”जहां हमारा कैंडिडेट मजबूत नहीं वहां हम सपा-बसपा की मदद कर रहे हैं। हम भाजपा को नुकसान पहुंचाने जा रहे हैं। जहां हमारा प्रत्याशी मजबूत हैं, वहां हम मौजूद हैं।”
चुनाव प्रचार पर नजर डालें तो साफ़ होता है कि कांग्रेस के नेताओं, खासकर प्रियंका गांधी ने जहाँ-जहाँ चुनाव रैलियां या रोड शो किया है वहां जबरदस्त भीड़ उमड़ी है। भले कांग्रेस ने काफी सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं, एक दर्ज़न से कुछ ज्यादा ऐसी सीटें यूपी में हैं जहाँ कांग्रेस बहुत मजबूती से लड़ रही है।
राहुल गांधी का कहना है कि जिन सीटों पर हम (कांग्रेस) चुनाव नहीं जीतने जा रहे वहां गठबंधन को समर्थन करेंगे। राहुल को पक्का भरोसा है कि यूपी में भाजपा का सूपड़ा साफ़ होने जा रहा है। महागठबंधन में शामिल न होने के सवाल पर राहुल का कहना है कि सपा और बसपा को लगता है कि उन्हें कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करना चाहिए।
कांग्रेस अध्यक्ष ने एक और बहुत महत्वपूर्ण बात कही। उनका कहना है कि यूपी को लेकर अध्यक्ष के नाते उनकी दीर्घ अवधि की रणनीति साफ़ है। ”मैंने ज्योतिरादित्य और अपनी बहन (प्रियंका, पूर्वी यूपी महासचिव) को कह दिया है कि हमें उत्तर प्रदेश में पार्टी को खड़ा करना है। यह विधानसभा चुनाव में दिखेगा। समय काम होने के कारण लोकसभा चुनाव में हमें अपनी जगह पाने के लिए संघर्ष करना होगा। हमें सुनिश्चित करना होगा कि हमने अपनी जमीन पा ली है।”