यूपी, उत्तराखंड में ज़हरीली शराब से ४० की मौत

दर्जनों लोग अस्पतालों में भर्ती, कई अधिकारी निलंबित किये

0
1461

यूपी और उत्तराखंड में जहरीली शराब शुक्रवार को कहर बन कर टूटी। दोनों राज्यों में यह रिपोर्ट लिखे जाने तक ४० लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कुछ अस्पतालों में ज़िंदगी की लड़ाई लड़ रहे हैं।

यूपी के सहारनपुर जिले में कुल १८ और कुशीनगर जिले में अब तक कुल १०  लोगों की मौत की खबर है। उत्तराखंड के झबरेड़ा क्षेत्र के बल्लूपुर गांव में जहरीली शराब पीने से अब तक १२ लोगों की मौत हो गई है। वहीं चार लोग गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं। सहारनपुर में कई लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है।

अवैध शराब के कारोबारियों पर कार्रवाई में लापरवाही बरतने के आरोप में तरयासुजान थाने के इंस्पेक्टर विनय पाठक को लाइन हाजिर और हल्का दरोगा और दो सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है।

सहारनपुर में नागल क्षेत्र के गांव उमाही में चार  हुई है और दस लोगों की हालत बेहद गंभीर है। इन सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहां के एसएसपी ने बताया कि पिंटू नाम का युवक गुरुवार को बाहर से गांव में शराब लेकर आया था। इसके अलावा गागलहेड़ी थाना क्षेत्र के गांव शरबतपुर में भी जहरीली शराब पीने से तीन लोगों की मौत हुई है।

गांव सलेमपुर में भी जहरीली शराब पीने से मौते हुई हैं। जहरीली शराब पीने से गांव माली, शरबतपुर, सलेमपुर और उमाही में अब तक कुल ११ लोगों की मौत हो चुकी है। कुशीनगर जिले के तरयासुजना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने वाले पांच और लोगों की बृहस्पतिवार को मौतें हो गयी जिससे मरने वालों के संख्या १० हो गयी है।
आबकारी निरीक्षक समेत पांच सिपाही भी निलंबित किए गए हैं। जहरीली शराब बनाने और बेचने में एक आरोपी राजेंद्र जायसवाल को गिरफ्तार किया गया है।