यशवंत सिन्हा होंगे राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष के साझे उम्मीदवार

शरद पवार, फ़ारूक़ अब्दुल्ला और गोपाल कृष्ण गांधी से शुरू होकर राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष की सुई पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा के नाम पर आकर अटक गयी है। वे विपक्ष के साझे उम्मीदवार हो सकते हैं। कहा गया है कि कांग्रेस भी सिन्हा के नाम पर सहमत है। विपक्ष के नेता इसकी आधिकारिक घोषणा कभी भी कर सकते हैं। बता दें, सिन्हा ने आज ही टीएमसी से इस्तीफा दे दिया और कहा कि वह विपक्षी एकता की दिशा में काम करने के लिए तृणमूल से अलग हट रहे हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक सिन्हा के नाम पर विपक्ष सर्वसम्मति से राय बना चुका है। यशवंत सिन्हा 27 जून को नामांकन दाखिल कर सकते हैं। पहले एनसीपी प्रमुख शरद पवार का नाम तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी की ओर से प्रस्तावित किया गया था, लेकिन पवार ने इनकार कर दिया था। गोपाल कृष्ण गांधी का नाम भी सामने आया था।

इधर कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा आज कहा – ‘यशवंत सिन्हा के कंपेन को आगे बढ़ाने के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है।’ वरिष्ठ कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा – ‘हम चाहते हैं कि ऐसा प्रत्याशी सामने रखा जाए जो लोकतंत्र की रक्षा कर सके।