मोदी है तो सब मुमकिन है : मोदी

प्रधानमंत्री बोले, हम कश्मीरियों के खिलाफ नहीं हैं

0
594

नोटबंदी, जीएसटी जैसे चर्चित प्रयोग ही पीएम मोदी ने नहीं किये हैं। शनिवार को राजस्थान के टोंक में प्रधानमंत्री नए नारे के साथ रैली में दिखे। नारा था – ”मोदी है तो मुमकिन है”। सरकार की योजनाओं का जिक्र करते हुए उन्होंने इनकी सफलता का जब दावा किया तो साथ ही हर-बार कहा – ऐसा इसलिए हो सका क्योंकि मोदी है तो मुमकिन है।”
इस मौके पर पीएम ने उनकी सभा में मौजूद लोगों के हाथ खड़े करवाकर उनसे वादा लिया कि वे अपने यहाँ कश्मीर के छात्रों (लोगों) की हिफाजत करेंगे। मोदी ने कहा – ”देश के हर नागरिक का फ़र्ज़ है कि वे कश्मीर के अपने यहाँ रह रहे लोगों/छात्रों की हिफाजत करें।”  पीएम ने पुलवामा अटैक के बाद कश्मीरी स्टूडेंट्स पर हुए हमलों का जिक्र करते हुए कहा कि इस देश में ऐसा नहीं होना चाहिए।
उन्होंने पुलवामा के बाद अपने लिए एक्शन का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि हमनें सेना को खुली छूट दे दी है। इन दिनों सोशल मीडिया पर वीर रस की बाढ़ आई है। हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है। मानवता के दुश्मनों के खिलाफ है। हमारी लड़ाई कश्मीरियों के खिलाफ नहीं है।
मोदी ने कहा – ”पिछले दिनों कहां क्या हुआ, घटना छोटी थी कि बड़ी। कश्मीरी बच्चों के साथ हिंदुस्तान के किसी कोने में क्या हुए, क्या नहीं हुआ। मुद्दा ये नहीं है। इस देश में ऐसा होना नहीं चाहिए।”
पीएम ने कहा – ”आज देश आत्मविश्वास से भरा है। ये इसलिए संभव है क्योंकि किसानों को सीधी सहायता मिली, आरक्षण मिला, दुश्मन में करारे जवाब का खौफ पैदा है। ऐसे अनेक कारण हैं, जिसकी वजह से देश को लगता है कि मोदी है तो मुमकिन है।”
मोदी ने कहा कि आज जवानों के नाम पर आंसू बहाने वाले लोगों को ये शब्द शोभा नहीं देता। ये हमारी सरकार है, जिसने वन रैंक वन पेंशन लागू किया। मोदी है तो मुमकिन है। पाकिस्तान के पीएम पर मोदी ने कहा – “देखता हूं इमरान अपनी बात पर खरे उतरते हैं या नहीं। मैंने इमरान खान से कहा था कि हिंदुस्तान, पाकिस्तान बहुत लड़ लिए। कुछ हासिल नहीं हुआ। प्रधानमंत्री बनें तो मैंने उनसे कहा था आप खेल की दुनिया से आए हो, आओ गरीबी और अशिक्षा से लड़ें। उन्होंने कहा था कि मैं पठान का बच्चा हूं। अब देखते हैं कि वे कितने खरे उतरते हैं।”
पीएम ने कहा – “आतंकवाद को जड़ से उखाड़ना है तो हम गलती न करें, आतंकवादी, आतंकवादी हैं। कश्मीरी आतंकवाद से मुसीबत झेल रहा है। पुरानी सरकारों की वजह से ऐसा है।” पीएम ने कश्मीर के पंच-सरपंचों से ”मैंने कहा कि आप घाटी में आतंकवादी स्कूल जला रहे हैं। इसे बंद कराईए। सभी ने मुझसे कहा कि मोदी जी, हम जान की बाजी लगा देंगे, लेकिन स्कूल जलाने नहीं देंगे।”
मोदी ने कहा कि हमनें सेना को खुली छूट दे दी है। ”इन दिनों सोशल मीडिया पर वीर रस की बाढ़ आई है। हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है। मानवता के दुश्मनों के खिलाफ है। हमारी लड़ाई कश्मीरियों के खिलाफ नहीं है। कश्मीर के लोगों के लिए है।”