मोदी वाराणसी से ही, गांधीनगर से आडवाणी की जगह शाह

भाजपा की पहली सूची में ज्यादातर पुराने नाम, कुछ का पत्ता कटा

0
602
आखिर लंबे इन्तजार के बाद भाजपा ने २०१९ लोक सभा चुनाव के लिए गुरूवार शाम अपनी पहली सूची जारी कर दी। इसमें पीएम मोदी को दोबारा यूपी की वाराणसी सीट से जबकि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को गुजरात की उस गांधीनगर सीट से उतारा गया है जहाँ से पार्टी के दिग्गज नेता लाल कृष्ण आडवाणी लगातार छह चुनाव जीते। सूची से जाहिर होता है कि आडवाणी का संसदीय करियर कमोवेश समाप्त हो गया है और शाह, यदि दोबारा भाजपा की सरकार बनी तो, सरकार में अहम पद हासिल करेंगे। आडवाणी की तरह एक और दिग्गज मुरली मनोहर जोशी का नाम भी पहली सूची में न आने से जाहिर होता है कि पार्टी ने उन्हें भी संसदीय राजनीति से बाहर कर दिया है। सोनिया गांधी की रायबरेली से भाजपा ने अभी किसी का नाम घोषित नहीं किया है।
पार्टी के वरिष्ठ नेता और स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने गुरूवार शाम भाजपा की पहली सूची के १८४ नामों का एक प्रेस कांफ्रेंस में खुलासा किया।  इसमें उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, तमिलनाडु, गुजरात,छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, अरुणाचल प्रदेश और त्रिपुरा समेत कई राज्यों के उमीदवार हैं।
 नड्डा ने बताया कि १९ और २० मार्च को भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठकों में एक-एक करके राज्यों पर चर्चा हुई जिसमें भाजपा अध्यक्ष शाह और पीएम मोदी ने भी हिस्सा लिया। नड्डा के मुताबिक बिहार की सूची कमोवेश फाइनल कर दी गयी है वहां के नाम की घोषणा बाद में राज्य इकाई और जेडीयू करेंगे।
पीएम मोदी वाराणसी से चुनाव लड़ेंगे जबकि गृह मंत्री राजनाथ सिंह पुरानी सीट लखनऊ से जबकि नितिन गडकरी नागपुर से प्रत्याशी होंगे। कुछ सांसदों और मंत्रियों के टिकट काटे भी गए हैं। केन्द्रीय मंत्री कृष्णा राज की जगह अरुण सागर को शाहजहांपुर से भाजपा उम्मीदवार बनाया गया है। अरूणाचल ईस्ट से किरण रिजिजू को टिकट दिया गया है। स्मृति ईरानी अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मुकाबले फिर किस्मत आजमाएंगी। पिछली बार राहुल के मुकाबले उन्हें करीब एक लाख वोटों से मात मिली थी।
सूची के मुताबिक गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) से डॉ. महेश शर्मा, मुज्जफरनगर से संजीव बालियान, गजियाबाद से वी के सिंह, बागपत से सत्यपाल सिंह, मथुरा से हेमा मालिनी और उन्नाव से साक्षी महाराज को टिकट दिया गया है। छत्तीसगढ़ से पांच सीटों पर उम्मीदवारों के नाम घोषित किये गए हैं जिसमें बस्तर से बैदूराम कश्यप शामिल हैं जबकि धारवाड़ से प्रह्लाद जोशी को टिकट दिया गया है। इसी तरह तिरूवनंतपुरम से के राजशेखरन को टिकट दिया गया है। उधमपुर से फिर जितेन्द्र सिंह, केंद्रपाड़ा से बैजयंत पांडा और कन्याकुमारी से पी राधाकृष्णन को टिकट दिया गया है।
जोधपुर से गजेन्द्र सिंह शेखावत, बीकानेर से अर्जुन राम मेघवाल, झालावाड़ से पूर्व सीएम के बेटे दुष्यंत सिंह, बंगाल भाजपा के प्रमुख दिलीप घोष को मेदिनीपुर, केन्द्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो आसनसोल से टिकट दिया।
सूची में यूपी के २८ उम्मीदवारों असम के आठ, अरुणाचल प्रदेश के दो, छत्तीसगढ़ के छह, अंडमान निकोबार द्वीप सह और दादर नगर हवेली के एक-एक, जम्मू कश्मीर के पांच, कर्नाटक के २१, केरल के १३, लक्षद्वीप के एक, मणिपुर के एक, मिजोरम के दो, ओडिशा के दस, राजस्थान के १६, सिक्किम के एक, तमिलनाडु के पांच, तेलंगाना के दस, त्रिपुरा के दो, उत्तराखंड के पांच, आंध्र प्रदेश के दो और पश्चिम बंगाल के २८  उम्मीदवारों के नाम शामिल हैं। नड्डा ने बताया कि भाजपा ने बिहार से पार्टी के सभी १७ उम्मीदवारों के नामों को भी अंतिम रूप दे दिया है और सूची राज्य इकाई को भेज दी गई है जिसकी घोषणा गठबंधन सहयोगियों के साथ की जायेगी। यूपी की लिस्ट में वाराणसी से पीएम नरेंद्र मोदी, लखनऊ राजनाथ सिंह, सहारनपुर राघव लखनपाल, बिजनौर कुंवर भरतेंद्र सिंह, संभल परमेश्वर लाल सैनी, अमरोहा कंवल सिंह तंवर, अलीगढ सतीश कुमार गौतम, आगरा एसपी सिंह बघेल, फतेहपुर सीकरी राज कुमार चाहेर, ऊना धर्मेंद्र कुमार, खिरी अजय कुमार मिश्रा, हरदौई जय प्रकाश रावत, मिश्रिख अशोक रावत,
मोहनलाल गंज कौशल किशोर, मुजफ्फरपुर संजीव बालियान, मुरादाबाद कुंवर सर्वेश कुमार, मेरठ राजेंद्र अग्रवाल, बागपत डॉ सत्यपाल सिंह, गाजियाबाद वीके सिंह, गौतम बुद्ध नगर महेश शर्मा, मथुरा हेमा मालिनी, एटा राजीव सिंह, शाहजहांपुर अरुण सागर, बदायूं संघमित्रा मौर्य, बरेली संतोष कुमार गंगवार, सीतापुर राजेश वर्मा,
हरदोई जयप्रकाश रावत उन्नावऔर से साक्षी महाराज के नाम शामिल हैं।