मोदी मुझसे राफेल पर सीधी बहस करें : राहुल

* यूपीए के वक्त ५६० करोड़ ''फुली इक्युप्ड'' विमान की कीमत थी * पीएम को ब्लैकमेल कर रहे हैं गोवा के सीएम * जेटली ने खुद राफेल कीमत १६०० करोड़ बताई

0
488
राफेल लड़ाकू विमान की खरीद में कीमत बढ़ाने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार शाम कहा कि सरकार कहती है कि राफेल की कीमत नहीं बताई जा सकती, लेकिन आज लोक सभा में खुद वित्त मंत्री ने ५८,००० करोड़ कीमत बताकर स्वीकार कर लिया कि प्रति विमान की कीमत १६०० करोड़ रूपये है। ”इसी पर ही तो हम सवाल उठा रहे हैं कि ५६० का १६०० करोड़ कैसे हो गया।” राहुल ने प्रेस कांफ्रेंस में एक फाइल से पढ़कर दावा किया कि यूपीए के वक्त समझौते में साफ़ है कि ५६० करोड़ रूपये ”फुली इक्युप्ड” जिसमें लांचर भी शामिल हैं, प्रति विमान की कीमत है।
राहुल ने पीएम मोदी को सीधी चुनौती दी कि वे आमने-सामने उनके साथ राफेल के मसले पर बहस तो तैयार हैं। उन्होंने कहा कि पूरे प्रोसीजर की धज्जियां उड़ाई गयी हैं। संसद में जेटली के भाषण की क्लिप भी प्रेस कांफ्रेंस में चलाई। कहा – ”कांग्रेस पार्टी को १६०० करोड़ रुपये का आंकड़ा खुद जेटलीजी के भाषण से मिला है।
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अरुण जेटली बार-बार झूठ बोलने के आदि हैं।  राहुल ने कहा – ”कांग्रेस पार्टी को १६०० करोड़ रुपये का आंकड़ा खुद जेटलीजी के भाषण से मिला है। लोकसभा में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पूछा कि कांग्रेस १६०० करोड़ का आंकड़ा कहां से लाई? जेटलीजी ने आपने ही अपने भाषण में हमें इसकी जानकारी दी है।”
राहुल ने कहा कि जेटलीजी ने अपने भाषण में ५८,००० करोड़ की डील की बात कही।  फिर राहुल ने पत्रकारों से कहा – इसे आप ३६ से भाग करके देख लें। यह १६०० ही आएगा। यानी १६०० करोड़ का आंकड़ा हमें जेटलीजी के भाषण से ही मिला है। उन्होंने सवाल किया कि क्या एयर फ़ोर्स ने राफेल की ज्यादा कीमत को अप्रूव किया था ? ”क्या वायुसेना ने कीमत बढ़ने का विरोध नहीं किया था?”
शुरुआत में राहुल ने उस ऑडियो टेप का जिक्र किया, जिसमें दावा किया गया है कि गोवा के एक मंत्री कह रहे हैं कि राफेल से जुड़ी फाइल मनोहर पर्रिकर जी के पास हैं। कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला ने सुबह इसे मीडिया के सामने जारी किया था। लीक हुए ऑडियो क्लिप पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि ऑडियो टेप में गोवा सरकार के हेल्थ मंत्री का बयान है, जिसमें वह साफ बोल रहे हैं कि केबिनेट मीटिंग में सीएम मनोहर पर्रिकर ने साफ बोला कि उनके पास राफेल डील की फाइल है, और उन्हें कोई परेशान नहीं कर सकता।
राहुल ने कहा – ”मनोहर पर्रिकर देश के प्रधानमंत्री को यह कहकर ब्लैकमेल कर रहे हैं कि उनके पास राफेल डील से संबंधित गोपनीय जानकारियां हैं। ऑडियो क्लिप से एक और सवाल खड़ा होता है कि आखिर मनोहर पर्रिकर के बेडरूम में राफेल से जुड़ी किस तरह की जानकारियों की फाइल रखी हुई है।  हो सकता है इस तरह की और भी ऑडियो सीडी हो सकती हैं।”