मिले तो राजम्मा को गले लगा लिया राहुल गांधी ने

राहुल के जन्म के समय अस्पताल में नर्स थीं ७२ साल की राजम्मा

0
432

राहुल गांधी की नागरिकता पर जब सवाल उठे थे तब केरल की एक नर्स राजम्मा वावथिल (अब ७२ साल) ने इस सवालों को गलत बताते हुए दावा किया था कि राहुल जब पैदा हुए थे तो वे एक नर्स के रूप में वहां मौजूद थीं और उन्हें गोद में भी उठाया था। राजम्मा ने तब राहुल से मिलने की इच्छा भी जताई थी जो रविवार को पूरी हो गयी। केरल के दौरे में  राजम्मा राहुल गांधी से मिलीं। राहुल ने उन्हें गले लगाया तो राजम्मा भावुक हो गईं।
लोकसभा चुनाव में वायनाड की सीट पर जीत के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी धन्यवाद यात्रा पर हैं। अपने दौरे के तीसरे दिन रविवार को कोझीकोड में रोड शो के दौरान राहुल ने इन दो दिनों में केरल की जनता से मिले प्‍यार का जिक्र करते हुए कहा – ”पिछले दो दिन में आपने मुझे जितना प्‍यार दिया उसे देखकर ऐसा महसूस हो रहा है कि मैं यहां जन्‍म से रह रहा हूं।”
राहुल ने यहीं उस नर्स राजम्‍मा से भी मुलाकात की जिन्होंने उनके जन्‍म के समय मौजूद होने का खुलासा किया था। वायनाड निवासी राजम्मा ने तब राहुल से मिलने की इच्छा जताई थी, जब वह वायनाड से नामांकन भरने आये थे। याद रहे राजम्मा वही महिला हैं जिन्होंने लोकसभा चुनाव के समय राहुल की नागरिकता पर सवाल उठाने पर दावा किया था कि राहुल उनकी गोद में ही जन्मे थे। ऐसे में उनकी नागरिकता को लेकर सवाल नहीं उठाना चाहिए।
नर्स राजम्मा ने तब कहा था कि राहुल गांधी का जन्म दिल्ली के होली फैमिली अस्पताल में  हुआ था, और उस समय वह उसी अस्पताल में बतौर ट्रेनी नर्स ड्यूटी पर थीं। उन्होंने दावा किया था कि १९ जून, १९७० को जब राहुल गांधी का जन्म हुआ तब वह वहां मौजूद थीं। राजम्मा ने यह भी कहा था कि वे यह जानकार बेहद रोमांचित थी कि वह (जन्मा बच्चा, राहुल) पीएम इंदिरा गांधी का पोता है।
राजम्मा के मुताबिक उन्हें अच्छी तरह याद है जब सोनिया गांधी को लेबर रूम ले जाया गया था, तब राजीव गांधी और संजय गांधी लेबर रूम के बाहर ही थे। उन्होंने कहा कि उस अस्पताल में सारे रिकॉर्ड मौजूद होने चाहिएं।
इस बीच राहुल गांधी ने भी राजम्मा से मुलाकात की तस्वीर अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की है। इसमें राहुल नर्स को गले लगाते दिख रहे हैं। यह एक भावुक मौका लगता है।