मानसून सत्र में लोकसभा दो दिन पहले ही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

विपक्ष के भारी हंगामे के बीच लोकसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। वहीं, राज्यसभा की कार्यवाही भी शोर-शराबे की वजह से दोपहर 12 बजे तक के लिए टालनी पड़ी। इसके बाद कार्यवाही फिर से शुरू हुई। बता दें कि संसद का मानसून सत्र 13 अगस्त तक ही चलना है।

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने भी कहा कि वह संसद में कार्यवाही न होने से दुखी हैं। उन्होंने बताया कि मानसून सत्र में महज 22 फीसदी ही काम हो सका है। सत्र में कुल 20 विधेयक ही पारित किए गए। इस दौरान राज्यों को ओबीसी सूची के अधिकार वाला विधेयक भी पास कराया गया। इसी विधेयक पर सरकार को विपक्ष का साथ मिला। इसके अलावा ज्यादातर विधेयक बिना किसी चर्चा और बहस के मिनटों में हंगामे के बीच पारित करा लिए गए।