मानसून का तीसरा कहर

0
861

मुंबई, नवीमुंबई, ठाणे और पालघर इलाके में सोमवार रात से जारी मूसलाधार बरसात के चलते जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। मौसम महकमे ने मुंबई, ठाणे, पुणे, रायगढ़, रत्नागिरि, सिंधुदुर्ग और पालघर इलाक़े में एहतियातन आरेंज अलर्ट जारी किया है।

लगातार बारिश के चलते मुंबई और उपनगर के कई निचले इलाकों में पानी भर गया है। हमेशा की तरह किंग सर्कल , सायन,धारावी, दादर ,भारत माता ,सांताक्रुज ,पवई, ठाणे, तुरभे ,पनवेल, नालासोपारा, और पालघर जलमग्न हो गए हैं। ठाणे और नवी मुंबई में भी वैडनसडे सुबह 8:30 बजे तक पिछले 24 घंटे में 100 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की जा चुकी है।

स्कूल-कॉलेज बंद

बीएमसी ने भारी बारिश को देखते हुए स्कूलों में बुधवार को छुट्टी की घोषणा कर दी है। निर्देश जारी किए गए हैं कि जिन स्कूलों में बच्चे पहुंच चुके हैं, मैनेजमेंट उनकी सुरक्षा का ध्यान रखते हुए उनके घर पहुंचाएं।

लाईफ लाईन लोकल रेल प्रभावित, फ्लाइट्स भी लेट
वेस्टर्न, सेन्ट्रल और हार्बर लाइन पर लोकल ट्रेनें चार-पांच घंटे लेट चल रही हैं। पटरियों पर पानी भर जाने की वजह से कयी ट्रेनें कैंसल भी की गई हैं। यात्री फंसे हुए हैं। जलजमाव के कारण बीईएसटी के बसों को डायवर्ट किया गया है। एयरपोर्ट अथॉरिटी के अनुसार फ्लाइट्स 15-20 मिनट देरी से उड़ रही हैं। प्रशासन ने लोगों को समंदर से दूर रहने की सलाह दी है। मछुआरों को समुद्र में न जाने की हिदायत दी गई है।

भारी बारिश की वजह से मुंबई और आसपास के इलाकों का जनजीवन अस्त-व्यस्त तो हुआ ही है लेकिन इसका सबसे ज्यादा असर गणेश उत्सव मंडल पर पड़ा है। आज गणेशजी के आगमन का तीसरा दिन है। कल डेढ़ दिन की गणपति के विसर्जन के दौरान लोग भीगते रहे लेकिन आज भारी बारिश की वजह से सड़को मैं पानी भर गया है और गणेश पंडाल भी पानी में डूबे से नजर आ रहे हैं।

स्थानीय प्रशासन ने सभी गणेश मंडलों को सतर्क रहने की अपील की है कि वह गणेश भक्तों की सुरक्षा का पूरा ध्यान दें ताकि किसी प्रकार की अप्रिय घटना न होंँ। बृहन्मुम्बई सार्वजनिक गणेशोत्सव समन्वय समिति ने भी सभी गणेश मंडलों से अपील की है कि एहतियातन तौर पर भारी बारिश को देखते हुए मंडल की लाइट-बिजली बंद रखें।