मराठा क्रांति मोर्चा आंदोलन, मुंबई बंद

कई जगह हिंसा और आगजनी, मराठा समुदाय के लोगों को नौकरी और शिक्षा में आरक्षण की मांग

0
794

महाराष्ट्र में मराठा क्रांति मोर्चा की तरफ से मराठा समुदाय के लोगों को नौकरी और शिक्षा में आरक्षण की मांग को लेकर बुलाए गए बंद के पहले दिन बुधवार को ख़ासा असर दिखा। कई जगह हिंसा, आगजनी हुई और मोर्चा कार्यकर्ताओं की तरफ से विरोध मार्च आयोजित किये गए।

आंदोलनकारी अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत मराठा समुदाय के लिए सरकारी नौकरियों और शिक्षा में 16% आरक्षण की मांग कर रहे हैं। यह मामला बॉम्बे हाईकोर्ट में लंबित है। याद रहे मराठा आरक्षण की मांग को लेकर औरंगाबाद में युवक की आत्महत्या के बाद मंगलवार को महाराष्ट्र के कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन हुआ था। मुंबई पुलिस हाई अलर्ट पर: मुंबई पुलिस हाई अलर्ट पर है।

मोर्चा कार्यकर्ताओं ने कई जगह कई जगह प्रदर्शन मार्च निकाले और इसके कारण सड़क यातायात मुंबई के अलावा ठाणे, नवीं मुंबई और महाराष्ट्र में कई जगह बुधवार को बंद दिखे। बंद को देखते हुए सुरक्षा के जबरदस्त इंतजाम किये गए हैं। वैसे ट्रेन सेवा नियमित समय से चल रही है। सुरक्षा व्यवस्था और चाक-चौबंद की दी गई है। करीब 40 रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) और गवर्नमेंट रेलवे पुलिस पर्सनल (आरपीपी) को दादर, सीएसएमटी और 20 को कुर्ला में तैनात किया गया है।

गौरतलब है कि मंगवार को मराठा प्रदर्शनकारियों ने भारी हिंसा और आगजनी की थी जिसके बाद नवीं मुंबई में दुकानें बंद रही थीं। आटो रिक्शा भी सड़कों पर नहीं दिखे। स्कूल और कॉलेजों को हालांकि बंद से बाहर रखे की बात की गयी थी लेकिन कई जगह स्कूल भी बंद दिखे।

मिली जानकारी के मुताबिक ठाणे, नवी मुंबई, घाटकोपर, मुलुंड में आंदोलनकारियों ने बाजार खुलने नहीं दिए। ठाणे, जोगेश्वरी में लोकल ट्रेनें भी रोकीं गयी हैं । नवी मुंबई के घंसोली में प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम कर दो बसों पर पथराव किया, जिसके बाद ऐरोली से वाशी के बीच बेस्ट बस की सेवा रोक दी गई। इन सभी इलाकों में पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है। परभणी, अहमदनगर में प्रदर्शनकारियों ने सरकारी वाहनों में तोड़फोड़ और आगजनी की।औरंगाबाद में हिंसा के बाद इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई। मराठवाड़ा के 8 जिलों में ऐहतियातन ज्यादातर प्राइवेट स्कूल-कॉलेज बंद रखे गए।

कल्याण के स्कूलों में छुट्टी:कल्याण के कई निजी स्कूलों ने में बुधवार को छुट्टी घोषित कर दी। मुलुंड टोल नाका पर प्रदर्शनकारियों ने चक्का जाम किया। कांदिवली हनुमान नगर में बेस्ट बसों को रोका गया। पालघर और भोइसर में बस और निजी रिक्शा सेवा बंद रही। हालांकि, मराठा क्रांति मोर्चा की बैठक में फैसला किया गया कि बंद में स्कूल-कॉलेजों, मेडिकल स्टोरों, एंबुलेंस और मूलभूत सुविधाओं को शामिल नहीं किया गया है। औरंगाबाद में सांसद से हाथापाई : आत्महत्या करने वाले युवक का अंतिम संस्कार मंगलवार को किया गया। यहां शिवसेना सांसद चंद्रकांत खैरे पहुंचे। लोगों ने उनकी गाड़ी पर पथराव कर दिया और हाथापाई भी की। सरकार ने युवक के परिजनों को 10 लाख मुआवजा और एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया है।