भारत में कोरोना के १५ संदिग्ध मामले, चीन में मरने वालों की संख्या १०६ हुई

राजधानी दिल्ली में तीन संदिग्ध आरएमएल अस्पताल में भर्ती

0
1081

चीन में अब तक १०६ लोगों की जान ले चुके कोरोना वायरस ने भारत में भी दस्तक दे दी है और अब तक इस वायरस के कमसे कम १५ संदिग्ध मामले सामने आये हैं। दिल्ली में तीन और मध्य प्रदेश के उज्जैन में भी मंगलवार को संदिग्ध मामलों की जानकारी दी गयी है। इसके अलावा बिहार और यूपी में भी मामले सामने आये हैं।

दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण की आशंका में तीन लोगों को आरएमएल अस्पताल के अलग वॉर्ड में निगरानी में रखा गया है। आरएमएल अस्पताल में भर्ती इन तीन मरीजों की उम्र २४ से ४८ साल के बीच बताई गयी है। उन्हें सोमवार को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था और उनके नमूनों को जांच के लिए भेजा गया है। इनमें से दो व्यक्ति दिल्ली के निवासी हैं

इसके अलावा मध्य प्रदेश के उज्जैन में कोरोना वायरस का एक संदिग्ध मरीज मिला है जिसे अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में रखा गया है, जहां उसका इलाज जारी है। वायरस की पुष्टि के लिए नमूना जांच के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (एनआईवी) पुणे भेजा गया है। स्वास्थ्य अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार, उज्जैन निवासी छात्र चीन के वुहान में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है और यहां लौटा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक बिहार से कोरोना वायरस के चार जबकि उत्तर प्रदेश से एक संदिग्ध मरीज मिला है। इनमें चीन से २२ जनवरी को लौटी सारण जिले की मेडिकल छात्रा भी शामिल है। चीन के तिआन्जिन प्रांत से छपरा आई शोध छात्रा को पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल के एकांत वार्ड में भर्ती कराया गया है। इसके अलावा दो संदिग्ध सीतामढ़ी और एक मुजफ्फरपुर का निवासी है।

मुजफ्फरपुर निवासी संदिग्ध का चीन से लौटने के बाद दिल्ली में इलाज चल रहा है। वहीं, सीतामढ़ी निवासी एक अन्य मरीज अभी चीन में ही है। वहीं, उत्तर प्रदेश के महराजगंज के एक छात्र चीन से घर वापस आया और शनिवार देर रात अधिकारी जांच के लिए उसे जिला अस्पताल ले आए। उसे एकांत वार्ड में निगरानी में रखा गया है।

वायरस के खतरे को देखते हुए भारत के हवाईअड्डों पर चीन से लौट रहे लोगों की स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई है। उधर चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या १०६ पहुँच गयी है। करीब १३०० नए मामले सामने आए हैं। मध्य हुबेई प्रांत में स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि २४ और लोगों की मौत वायरस से हुई है और १२९१  अधिक लोग संक्रमित हुए हैं।

चिंता की बात यह है कि कोरोना वायरस दूसरे देशों में भी पांव पसार रहा है।  अभी तक की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका, हांगकांग, मकाऊ, ताईवान और भारत के बाद अब श्रीलंका में भी कोरोन वायरस के संदिग्ध मिले हैं। चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग ने नए कोरोनो वायरस के कारगर नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक की है और लोगों की जान बचाने को प्राथमिकता देने के निर्देश दिए हैं।