बुलंदशहर में हिंसा, २ लोगों की मौत

मरने वालों में एक पुलिस अधिकारी, एक प्रदर्शनकारी

0
349

उत्तर प्रदेश के संवेदनशील माने जाने वाले बुलंदशहर में कथित गोकशी को लेकर सोमवार शाम जबरदस्त हिंसा हुई। इसमें एक पुलिस अधिकारी के अलावा एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई। रिपोट्स के मुताबिक कुछ पुलिसकर्मी  इस हिंसा में घायल हुए हैं।कम से कम एक दर्जन वाहनों को भी नुक्सान पहुँचाया गया है।

रपोर्टस में बताया गया है कि कथित गोकशी की घटना की जानकारी मिलने के बाद गुस्साए लोगों ने स्थानीय पुलिस चौकी को आग लगा दी। इसके बाद   हालात नियंत्रण  करने के लिए  पुलिस ने फायरिंग कर दी। इलाके में तनाव  बना हुआ है। बड़ी तादाद में पुलिस तैनात की गयी है। प्रदेश के डीजीपी के मुताबिक हालात अभी नियंत्रण में।

जानकारी के मुताबिक बुलंदशहर के स्याना थाना क्षेत्र के चिंगरावठी में जैसे ही कथित गोकशी की बात फैली बड़ी संख्या में आसपास के गावों के लोग इकट्ठे हो गए और चिंगरावठी पुलिस चौकी पहुंचकर जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद वहां गुस्साए लोगों ने हिंसा शुरू कर दी और थाने के अलावा कई वाहनों को आग लगा दी।

हिंसा बढ़ती देख पुलिस ने फायरिंग शुरू कर दी।इस हिंसा में अब तक एक पुलिस इंस्पेक्टर और एक प्रदर्शनकारी की मौत हो जाने की खबर है। घटना के संबंध में प्रदेश के एडीजी कानून व्यबस्था, आनंद कुमार ने  बताया कि   हिंसा में एक पुलिस इन्स्पेक्टर की मौत हो गयी जबकि आध दर्जन  पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इनके अलावा एक प्रदर्शनकारी की भी मौत हुई है।

बताया गया है कि घटना सोमवार दोपहर करीब सवा 12 बजे की है। लोग कथित गोकशी की सूचना पर पुलिस चौकी चिंगरावठी पहुंचे थे। तभी वहां कुछ ग्रामीण ट्रैक्टर-ट्राली में जानवरों का शव लोकर आ गए और चौकी पर पथराव होने लगा।

एडीजी के मुताबिक झड़प के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध के सिर पर कोई भारी वस्तु आकर लगी, जिससे खून ज्यादा बहने से उनकी मौत हो गई। यह भी बताया गया है कि उनकी मौत प्रदर्शनकारियों के हमले में हुई। एक प्रदर्शनकारी की मौत की भी खबर है। एडीजी ने बताया कि मौके पर फायरिंग की अपुष्ट खबर है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।