बीकानेर में मिग-२१ हादसा

पायलट सुरक्षित, हादसे की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी होगी

0
873
मिग-२१ शुक्रवार को हादसे का शिकार हो गया। हादसा राजस्थान के बीकानेर में हुआ हालाँकि इसका पायलट सुरक्षित है। वायुसेना ने दुर्घटना के कारणों की जांच के लिये कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी का आदेश दिया है।
हादसा बीकानेर से करीब १२ किलोमीटर दूर शोभासर की ढाणी के पास हुआ। विमान ने नल एयरबेस से उड़ान भरी थी लेकिन लैंडिग से पहले ही हादसे का शिकार हो गया।  सेना प्रवक्ता सोंबित घोष के अनुसार दुर्घटनाग्रस्त लड़ाकू विमान मिग-२१ बीकानेर के वायुसेना के नाल हवाई अड्डे से नियमित उड़ान भरने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान का पायलट सुरक्षित कूद गया। ”हादसे के कारणों की जांच के लिये कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी की जा रही है”।
बीकानेर के पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा के मुताबिक वायुसेना का लड़ाकू विमान मिग-21 बीकानेर से लगभग 12 किलोमीटर दूर शोभासर की ढाणी के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया। पुलिस दल घटनास्थल के लिये रवाना हो गया है। इस दुर्घटना में अभी तक किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है। हादसे की खबर मिलते ही  पुलिस दल घटनास्थल के लिये रवाना कर दिया गया।
कुछ दिन पहले जम्मू-कश्मीर में भी वायुसेना का मिग-२१ बाइसन हादसे का शिकार  हो गया था। क्रैश होने से पहले मिग ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमान एफ-१६ को मार गिराया था। इस विमान को विंग कमांडर अभिनंदन उड़ा रहे थे जो बाद में पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) पहुंच गए थे जिन्हें बाद में पाकिस्तान ने बढ़ते अंतर्राष्ट्रीय दवाब के चलते ४८ घंटे में ही रिहा कर दिया था।
इससे पहले हिमाचल के कांगड़ा में भी पिछले साल जुलाई में मिग-२१ लड़ाकू विमान हादसे का शिकार हो गया था। इसके बाद सितंबर २०१८ में राजस्थान के ही जोधपुर के पास इंडियन एयरफोर्स का मिग -२७  हादसे का शिकार हुआ था।