बिहार के राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने यू॰पी॰डबल्यू॰जे॰यू॰ के कार्यकारिणी सदस्यों से भेंट

0
478

बिहार के राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने  यू॰पी॰डबल्यू॰जे॰यू॰ के कार्यकारिणी सदस्यों से भेंट के दौरान कहा कि आज आप लोगों से मिलकर पुरानी यादें ताजा हो रही हैं। उन्होंने कहा कि बिहार में अगर कौटिल्य को शिक्षा के क्षेत्र के रूप में प्रणाम न करुं तो बात अधूरी लगती है। उन्होंने कहा कि बिहार में शिक्षा के क्षेत्र में व्याप्त अराजकता को सुधारना आसान नहीं है, पर वह इसमें सुधार करने का भरसक प्रयास करेंगे।

यू॰पी॰डबल्यू॰जे॰यू॰ का  प्रतिनिधि मंडल कल  IFWJ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री के विक्रम राव के मार्गदर्शन एवं प्रदेश अध्यक्ष हसीब सिद्दीकी की विशिष्ट उपस्थिति में LWJU अध्यक्ष शिव शरण सिंह एवं लखनऊ इकाई के 70 सदस्यों के साथ बिहार के राज्यपाल मा० लालजी टंडन से उनके हज़रतगंज स्थित आवास पर मिला |  इस अवसर पर राज्यपाल द्वारा रचित पुस्तक “अनकहा लखनऊ” के कई संस्मरणों पर प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने अपने विचार साझा | श्री टंडन जी का लखनऊ से अटूट रिश्ता है और यही बात उनकी पुस्तक में भी झलकती है जिसकी भूरी भूरी प्रसंशा भी हुई, इस अवसर पर महासचिव के० विश्वदेव राव ने माला पहना कर राज्यपाल का अभिवादन किया।

इस अवसर पर डा० के विक्रम राव ने राज्यपाल से अनुरोध किया कि जब भी वें लखनऊ आयें तो लखनऊ के पत्रकारों से प्रोटोकॉल के दायरे में रह कर मुलाकात ना करें, उन्हें इस तरह का एक अध्यादेश लाना चाहिये |  राष्ट्रीय अध्यक्ष जी के इस प्रस्ताव का समर्थन वरीष्ठ पत्रकार डा० योगेश मिश्रा, श्री हसीब सिद्दीकी, श्री रामदत्त त्रिपाठी, श्री अनूप श्रीवास्तव, श्री गोविंद पंत राजू ने करते हुए कहा कि लालजी टंडन जी का लखनऊ के पत्रकारों से पारिवारिक रिश्ता है जो प्रोटोकाल के दायरे में नही आना नही चाहिये।

श्री टंडन ने प्रेस क्लब और यूनियन के अपने संस्मरणों को भी मुलाकात के दौरान सांझा किया।

इस अवसर पर मुकुल मिश्रा, महामंत्री UPWJU पी०के०तिवारी, सचिव विनीता रानी बिन्नी, राजेश शुक्ला, शैलेन्द्र सिंह, अतीकुर्रहमान, ज्ञानेंद्र शुक्ला, रजत मिश्रा, हिमांशु दीक्षित, प्रदुमन तिवारी, अमिताभ नीलम, शिवशंकर गोस्वामी, मो०ताहिर, संदीप मिश्र, हिमांशु चौहान, अविनाश शुक्ल, विवेक त्रिपाठी, शिव विजय सिंह, इफ्तिदा भट्टी, नादिर वहाब, नफीस अहमद, जावेद काज़िम, अमरेंद्र प्रताप सिंह, अनिल सैनी, देवराज सिंह, खुर्रम निजामी, शैलेंद्र सिंह, आशुतोष श्रीवास्तव, सुजीत दिवेदी, अभिनव सिन्हा, आशीष कुमार सिंह, दुर्गेश दीक्षित एवं अन्य साथी उपस्थित थे।