बदनीयत से कोई काम नहीं करूंगा : मोदी

जनता से किये तीन संकल्प, कहा मेरा कण-कण देशवासियों को समर्पित

0
603

जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता का सामने तीन संकल्प किये हैं। भाजपा कार्यालय में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के साथ पहुंचे मोदी ने समर्थकों के जबरदस्त स्वागत के बीच कहा – ”मैं देशवासियों से कहना चाहूंगा, इसे मेरा वादा-संकल्प-प्रतिबद्धता मानिए कि आपने जो मुझे फिर से काम दिया है, आने वाले दिनों में मैं बदइरादे, बदनीयत से कोई काम नहीं करूंगा। इतनी बड़ी जिम्मेदारी के बाद में देशवासियों से कहना चाहूंगा कि मैं मेरे लिए कुछ नहीं करूंगा। मेरा पल-पल और मेरे शरीर का कण-कण देशवासियों के सेवा में समर्पित होगा।”
उनसे पहले अपने सम्बोधन में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इसे ”महानायक मोदी” की जीत बताया। बाद में मोदी ने अपने सम्बोधन में कहा – ”इस चुनाव में एक भी राजनीति दल सेकुलरिज्म का नकाब पहनकर देश को गुमराह नहीं कर पाया। ये चुनाव ऐसा है, जहां महंगाई को एक भी विरोधी दल मुद्दा नहीं बना पाया। ये चुनाव ऐसा है जिसमें कोई भी दल हमारी सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर उसे मुद्दे नहीं बना पाया।”
भाजपा की किसी समय दो सीटों का जिक्र और भाजपा के उत्थान पर मोदी ने कहा – ” कभी हम दो हो गए, तो भी और आज दोबारा आ गए। दो से दोबारा होने की यात्रा में कई उतार चढ़ाव आए। कितना गर्व होता है कि जिस दल में हम हैं, उसमें कितने दिलदार लोग हैं।”
मोदी ने इस चुनाव को जनता का चुनाव कुछ यूं बताया – ”इस चुनाव में मैं पहले दिन से कहा रहा था कि ये चुनाव कोई दल नहीं लड़ रहा है, कोई उम्मीदवार नहीं लड़ रहा है, कोई नेता नहीं लड़ रहा है। ये चुनाव देश की जनता लड़ रही थी।”
जब मोदी भाजपा कार्यालय पहुंचे तो बारिश हो रही थी। मोदी ने अपने भाषण में इसका भी जिक्र किया – ”आज स्वयं मेघराज भी विजय उत्सव में शरीक होने के लिए हमारे बीच हैं। आजादी के बाद कई चुनाव हुए, लेकिन इस चुनाव में सबसे ज्यादा मतदान हुआ, और वह भी ४०-४२ डिग्री तापमान में। चुनाव आयोग को उत्तम तरीके से चुनाव कराने के लिए धन्यवाद। जनता ने इस फकीर की झोली भर दी।”
मोदी से पहले अपनी पार्टी की जीत को शाह ने कई मायने में ऐतिहासिक बताया। कहा – ”पचास साल के बाद पहली बार देश में पूर्ण बहुमत से शासन करने वाला प्रधानमंत्री, दोबारा पूर्ण बहुमत के साथ प्रधानमंत्री बनने जा रहा है। ये सम्मान हम सबके लोकप्रिय नेता, भाजपा के लोकप्रिय नेता नरेंद्र मोदी जी को मिला है। एक ओर जनता ने मोदीजी के नेतृत्व में भाजपा को जिताया है। दूसरी ओर कांग्रेस को करारी हार देखनी पड़ी है। देश के १७ राज्यों में कांग्रेस को बिग जीरो मिला है। उत्तर प्रदेश के अंदर सपा-बसपा दोनों इकट्ठा हुए तो मीडिया का कहना था कि उत्तर प्रदेश में क्या होगा? ये प्रचंड विजय दर्शाती है कि आने वाले दिनों में परिवारवादी पार्टियों का कोई महत्व नहीं रहने वाला है।”
शाह ने कहा कि आज देश के अंदर आजादी के बाद सबसे ऐतिहासिक विजय नरेंद्र मोदीजी के नेतृत्व में भाजपा को प्राप्त हुई है। ”ये हम सबके लिए गौरव की बात है। ये देश की जनता की विजय है। ये भाजपा के ११ करोड़ भाजपा के कार्यकर्ताओं के कठिन परिश्रम की विजय है। ये विजय भाजपा की मोदी सरकार, जिसने २०१४-१९  तक सबका साथ-सबका विकास की नीति से काम किया, ये उस नीति की विजय है।”
बाद में मोदी ने भी शाह के बतौर पार्टी अध्यक्ष मेहनत की तारीफ़ की। मोदी ने पार्टी के पन्ना प्रमुखों के रोल को भी खूब सराहा। ”कुछ लोगों ने हमारे पन्ना प्रमुखों का मजाक उड़ाया लेकिन आज साबित हो गया है कि पन्ना प्रमुखों की क्या ताकत है।”