फरार खालिस्तान समर्थक नेता अमृतपाल के चाचा और चालक का आत्मसमर्पण  

खालिस्तान समर्थक नेता अमृतपाल सिंह को भले पुलिस अभी गिरफ्तार नहीं कर पाई हो, उसके चाचा और ड्राइवर ने सोमवार को आत्मसमर्पण कर दिया है। अमृतपाल सिंह को पुलिस पहले ही भगोड़ा घोषित कर चुकी है और उसकी तलाश की जा रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक अमृतपाल सिंह कथित तौर पर ड्रग रिहैब सेंटर और एक गुरुद्वारे का इस्तेमाल हथियार जमा करने और युवाओं को आत्मघाती हमले के लिए तैयार करने के लिए कर रहा था। इस बीच उसके चाचा हरजीत सिंह और ड्राइवर हरप्रीत ने पंजाब के महतपुर में पुलिस के सामने समर्र्पण कर दिया है। शनिवार को पुलिस ने खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह और उसके साथियों का पीछा किया था लेकिन वह पुलिस को चकमा देकर भाग निकला था। उसके कई साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। अमृतपाल सिंह का शनिवार को जब पुलिस पीछा कर रही थी उस समय उसके चाचा हरजीत सिंह मर्सिडीज चला रहे थे। हरजीत ने कहा कि 15-16 किलोमीटर पीछा करने के दौरान वह और अमृतपाल अलग हो गए थे। अमृतपाल के चार बड़े सहयोगियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था किया था और उन्हें असम के डिब्रूगढ़ ले जाया गया है।