प्रियंका गांधी लड़ सकती हैं रायबरेली की किसी सीट से विधानसभा चुनाव !

राकेश रॉकी
उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में अब टिकटों के बाँटने का दौर चल रहा है और इस बीच यह खबर है कि कांग्रेस की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी विधानसभा का चुनाव लड़ सकती है। कांग्रेस इस चुनाव में खुद की स्थिति के बेहतर होने की संभावना देखते हुए प्रियंका को मैदान में उतार सकती है टाकिन इस स्थिति को और बेहतर किया जा सके। उधर समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश याद ने यादव परिवार के गढ़ मैनपुरी की करहल सीट से चुनाव में उतरने का ऐलान कर दिया है।प्रियंका गांधी को लेकर कांग्रेस ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं लेकिन ‘तहलका’ की जानकारी के मुताबिक पार्टी के हक़ में माहौल बनाने के लिए प्रियंका गांधी को रायबरेली की किसी सुरक्षित सीट से चुनाव में उतारा जा सकता है। यहाँ तक कि उन्हें घोषित न करके भी मुख्यमंत्री पद के उमीदवार के रूप में सामने रखने की तुरुप कांग्रेस चल सकती है।कांग्रेस महसूस कर रही है कि प्रियंका गांधी के चलते पिछड़े वर्ग, दलित, मुस्लिम ही नहीं महिलाएं और युवा भी कांग्रेस के प्रति दिलचस्पी दिखा रहे हैं। युवाओं और महिलाओं के लिए प्रियंका गांधी ने ख़ास अलग से घोषणापत्र जारी करके यह सन्देश देने की कोशिश की है यदि वह सत्ता में आती है तो 20 लाख रोजगार देगी।

बेरोजगारी इस समय यूपी सहित सभी चुनाव वाले राज्यों में बड़ा मुद्दा बनता दिख रहा है। दूसरे महिलाओं को महत्व देकर प्रियंका उन्हें पार्टी से जोड़ने में सफल होती दिख रही हैं। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता के दावे के मुताबिक यूपी चुनाव को लेकर इस समय जो सर्वे दिखाए जा रहे हैं वह हकीकत से कोसों दूर हैं और प्रियंका गांधी की लोकप्रियता लगातार बढ़ रही है। उन्होंने तो दावा किया कि चुनाव के बाद यूपी की राजनीति में कांग्रेस का रोल बहुत महत्वपूर्ण होने जा रहा है।

अभी तक के टीवी चैनलों के सर्वे में उत्तर प्रदेश में भाजपा को आगे दिखाया जा रहा है  और उसकी टक्कर सपा से दिखाई जा रही है। हालांकि, राजनीति के कुछ जानकार मान रहे हैं कि इस चुनाव में स्थिति दिलचस्प हो सकती है। प्रियंका गांधी यदि चुनाव में उतर जाती हैं तो स्थिति सच में काफी दिलचस्प हो जाएगी क्योंकि इससे कांग्रेस चर्चा के केंद्र में आ सकती है।