प्रशांत किशोर ने थामा जेडीयू का दामन

नीतिश कुमार के बाद दूसरे नंबर पर होंगे पार्टी में

0
451

पूर्व में भाजपा, कांग्रेस और जेडीयू से जुड़े रहे चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने नितीश कुमार की पार्टी जनता दाल (यू) का दामन थाम लिया है। उन्हें नीतिश कुमार के बाद पार्टी में नंबर दो का दर्जा दिया गया है। वे रविवार सुबह पार्टी की बैठक में भी शामिल हुए।

जेडीयू ने किशोर के उनकी पार्टी में शामिल होने की आधिकारिक घोषणा भी इस बैठक में की।  सम्भावना है कि किशोर जनता दाल (यू) की टिकट पर लोक सभा का चुनाव लड़ सकते हैं। प्रशांत किशोर ने शनिवार शाम ही ट्वीट करके कहा था कि ”वह बिहार में नई यात्रा शुरू करने के लिए काफी उत्साहित हैं”। रविवार सुबह ही जानकारी आई कि वे जेडीयू में शामिल होने जा रहे हैं।

गौरतलब है कि प्रशांत कुछ साल पहले एक चुनावी रणनीतिकार के रूप में जेडीयू और नीतिश कुमार के लिए काम कर चुके हैं। इसके बाद उन्होंने भाजपा और पीएम मोदी के लिए भी काम किया जबकि पिछले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में वे कांग्रेस के लिए काम करते दिखे थे।

पहले प्रशांत के जेडीयू में शामिल होने के कयासों पर जेडीयू नेता केसी त्यागी ने कहा था कि उनके पार्टी में शामिल होने की आधिकारिक घोषणा का इंतजार करना चाहिए। ”उन्होंने पार्टी में शामिल होने की इच्छा जाहिर की है। हम पार्टी में उनका स्वागत करेंगे”। हालांकि पार्टी में किशोर को नंबर दो दर्जा दिए जाने की बात पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं को खटक सकती है। भाजपा को भी उनके जेडीयू में जाने से बड़ा झटका लगा है।

फिलाहल रविवार को जेडीयू की राज्य कार्यकारणी की बैठक में प्रशांत किशोर बाकायदा जीडीयू में शामिल हो गए और वे इस बैठक में भी शामिल हुए। बैठक में २०१९ के लोकसभा चुनाव को लेकर भी चर्चा की जा रही है। माना जाता है कि २०१४ के लोक सभा चुनाव में भाजपा की बड़ी जीत में प्रशांत किशोर का अहम् योगदान माना जाता है। ”अबकी बार मोदी सरकार” उनका ही दिया नारा था और इसे  सोशल मीडिया में काफी लोकप्रियता मिली थी।